मानव शरीर मे श्वेत रक्त कोशिका का महत्व – White Blood cell In Hindi

0
148
श्वेत रक्त कोशिकायें

श्वेत रक्त कोशिका या श्वेताणु या ल्यूकोसाइट्स शरीर की संक्रामक रोगों और खराब खानपान से होने वाले शरीर को बचाने वाली प्रतिरक्षा प्रणाली की कोशिकायें होती है | जो कई प्रकार की होती है | ये हमारे शरीर मे अस्थि मज्जा की एक मल्टीपोटेंट, हीमेटोपोईएटिक स्टेम सेल से इनका निर्माण होता है | ल्यूकोसाइट्स हमारे पूरे शरीर में पाई जाती है | श्वेत रक्त कोशिकायें हमारे शरीर मे एंटीजन और एंटीबॉडी का निर्माण भी करती है |

अगर हमारे शरीर मे इसकी कमी हो जाने पर हम ल्यूकेमिया का शिकार हो जाते है | ये हमारे शरीर को रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करती हैं | । एड्स, कैंसर और हेपेटाइटिस जैसी बीमारी के कारण हमारे शरीर में इनकी कमी होने लगती है | आज हम आपको श्वेत रक्त कोशिकायें के बारे में जानकारी देने जा रहे है | तो आइये जानते है श्वेत रक्त कोशिकायें के बारे में

श्वेत रक्त कोशिकायें के कम होने के कारण :

श्वेत रक्त कोशिकायें शरीर में कमी होने के कई कारण होते है जैसे –

कैंसर की वजह से   – कैंसर की वजह से हमारे शरीर में श्वेत रक्त कोशिका की कमी होने लगती है कैंसर की वजह से हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होने लगती है

अस्थि मज्जा में नुकसान की वजह से – अस्थि मज्जा में ही इसका निर्माण होता है इसीलिए अगर किसी वजह से अस्थि मज्जा को नुकसान पहुचता है | तो इनके निर्माण में कमी आ जाती है |

अधिक एंटीबायोटिक के सेवन से – अधिक एंटीबायोटिक के सेवन से हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है जिससे हमारे शरीर में श्वेत रक्त कोशिका की भी कमी होने लगती है |

संक्रमण के कारण – किसी संक्रमण की वजह सभी हमारे अस्थि मज्जा को नुकसान पहुचता है | जिसके कारण श्वेत रक्त कोशिका में कमी आ जाती है |

जन्म के समय बीमारी की वजह से – जन्म के समय बीमारी के कारण बच्चे की प्रतिरोधक क्षमता व प्रतिरक्षा प्रणाली दोनों कमजोर हो जाती है | जिससे बच्चे के शरीर में श्वेत रक्त कोशिका कम ही बन पाती है

आस्टिइम्योन की वजह से – शरीर में आस्टिइम्योन की समस्या के कारण भी श्वेत रक्त कोशिका में कमी आ जाती है |

अब आइये जानते है श्वेत रक्त कोशिकायें से जुड़े कुछ सवाल के बारे में

आदमी के शरीर में ल्यूकोसाइट्स की कितनी मात्रा होनी चाहिये ?

एक स्वस्थ आदमी के ल्यूकोसाइट्स की मात्रा चार हजार प्रति यूनिट होती है | लेकिन बच्चों में यह उम्र के साथ बढती रहती है | इसीलिए अगर आप आये दिन किसी ना किसी बीमारी के शिकार होने लगते है | तो आपको जाँच करवा कर उपचार लेना चाहिये |

क्या श्वेत रक्त कोशिकायें रक्त का थक्का बनने में हमारी मदद करता है ?

श्वेत रक्त कोशिकायें रक्त का थक्का बनाने में मदद करती है | ये हमारे रक्त का ही हिस्सा होती है |

श्वेत रक्त कोशिकायें का जीवनकाल कितना होता है ?

श्वेत रक्त कोशिकायें का जीवन काल जीवन भर चलता है | अगर आदमी स्वस्थ दिनचर्या को अपनाये तब अगर

श्वेत रक्त कोशिकायें को कैसे बढ़ाये ?

श्वेत रक्त कोशिकायें को बढ़ाने के लिए हमें अपनी दिनचर्या में बदलाव लाना चाहिये | स्वस्थ आहार का सेवन करे रनिंग करे व योगा को जोड़े ऐसा करने से हमारी श्वेत रक्त कोशिका में बढ़ोतरी होने लगेगी |

ओर पढ़े – एच. आई. वी. एड्स का सफल इलाज 2019 – HIV/AIDS (Acquired Immunodeficiency Syndrome) In Hindi

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.