तुलसी के फायदे – Benefits of Tulsi in hindi

तुलसी के फायदे
तुलसी के फायदे

तुलसी के फायदे बहुत से है क्योकि तुलसी एक औषधीय पौधे होता है जो आज के समय मे हर घर के आँगन या छत पर लगा होता है |तुलसी मे कई सारे औषधीय पौधे गुण पाए जाते है जोकि बहुत से घरेलु नुस्खो मे काम आते है | तुलसी का पेड़ झाड़ी के रूप मे उगता है ओर 1 से 3 फुट तक लम्बा होता है | तुलसी का पौधा दो से तीन साल तक तो हरा भरा बना रहता है इसके बाद इसकी वृधावस्था आ जाने के कारण इसके हरियाली चली जाती है और इसकी पत्तिया मुरझा जाती है ओर शाखाये सूख जाती है | तुलसी एक अत्यधिक सुघंधित जड़ी बूटी है जो सबसे अधिक भोजन को बनाने नै मसालों के रूप मे  प्रयोग किआ जाता है |

तुलसी विभिन्न स्वास्थ्य लाभों के लिए भी लोकप्रिय है | तुलसी मे कई रासयनिक गुण पाए जाते है तो अनेक बीमारियों को रोकने मे ओर हमे स्वस्थ्य रखने मे सहायक होते है | तुलसी मे विटामिन ए ,सी और के ,मैगनीज ,ताम्बा ,कैल्शियम ,आयरन ,मैग्गनिसियम और ओमेगा 3  फैट्स जैसे आवश्यक पोषक तत्व अच्छी मात्र मे मोजूद होते है और यह सभी पोषक तत्व एक अच्छे स्वस्थ्य के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होते है |

तुलसी के घरेलु उपयोग :

  • बारिश के मौसम मे रोजाना तीन से चार तुलसी की पत्ती खाने से मौसमी बुखार ओर शर्दी झुकाम दूर रहता है|
  • दाद खुजली होने पर तुलसी को खाने से ओर प्रभाभित जगह तुलसी की पत्तियों का पेस्ट बना कर लगाने  से दाद खुजली मे जल्द ही राहत मिलती है |
  • तुलसी की पत्तियों को हलकी आग मे सेक कर खाने से गले का दर्द ओर खासी मे काफी  राहत मिलती है |
  • खासी झुकाम मे तुलसी ,अदरक ओर काली मिर्च की बनी हुई चाये को पीने से बहुत अधिक आराम मिलता है |
  • तुलसी मे विटामिन ए पाया जाता है जो की आँखों की परेशानी के लिए बहुत ही लाभकारी होती है |
  • तुलसी का सोठ के साथ सेवन करने से लगातार आ रहे बुखार मे रहत मिलती है |
  • माषिक धर्म के दोरान हो रहे कमर दर्द को दूर करने के लिए तुलसी का रस पिये और तुलसी के पत्ते चबाये इससे माषिक धर्म नियमित रहता है |

तुलसी से होने वाले स्वास्थ्यकारी लाभ :

  • पथरी की समस्या दूर करने के लिए  :

किडनी की पथरी से निदान पाने के लिए तुलसी का सेवन करना चाहिए क्यूकि स्टोन बनने का जो मुख्या कारण होता है वह युरीक एसिड क बढने से बनती है ओर तुलसी युरीक एसिड को खतम कर तुलसी का तेल स्टोन को नस्त करने मे सहायक होता है ओर स्टोन से होने वाले दर्द मे भी काफी राहत दिलाता है |

  • स्मोकिंग छुड़ाने मे सहायक :

तुलसी मे एंटी स्ट्रेस एजेंट होते है जो स्मोकिंग को छोड़ने मे हमारी मदद करते है ,तनाव के कम होने से हम खुद सिगरेट से दूर रहेगे और यदि आपका कभी मन करता भी है तो तीन चार तुलसी की पत्तिय अपने मुह मे चबा लीजिये तो सिगरेट पीने की लत ख़त्म हो जाएगी |

  • दस्त उलटी दूर करने मे :

दस्त वाले मरीज को तुलसी की पत्तियों को पीसकर उसमे सेहद व् जीरा पावडर मिलाकर दो-दो घंटे मे दस्त मे काफी आराम मिलेगा |इसके अलावा उलटी होने पर तुलसी क रस मे अदरक का रस व् इलायची मिलाकर पीना चाहिए |

  • कैंसर रोगियों के लिए :

तुलसी मे एंटी ऑक्साइड प्रॉपर्टीज होने के कारण तुलसी ब्रैस्ट कैंसर ओर तम्भाकू द्वारा हुए मुह के कैंसर मे रहत दिलाती है यह कैन्सर की कोसिकाओ को शरीर मे बढने से रोकती है |

  • डायबिटीज को कम करने मे :

शरीर मे इन्सुलिन को बनाने व् बनाये रखने वाले तत्व को तुलसी हमारे शरीर से बहार निकालती है ओर तुलसी ब्लड को भी लेवल मे बनाये रखती है जिससे डायबिटीज कण्ट्रोल मे रहती है |

कुछ अन्य फायदे :

  • तुलसी को नियमित रूप से चबाने से बच्चो से लेकर बड़ो तक सभी की स्मरण शक्ति बढती है |
  • कान मे दर्द होता हो या फिर कम सुनाई देता होता हो तुलसी के रस मे कपूर को डालकर गर्म करके ओर हल्का हल्का इसको कान मे डाले तो दर्द मे काफी आराम मिलेगा |
  • तुलसी के पत्तो को पीसकर चहेरे पर लगाने से मुहासे ,दाग धब्बे सब दूर हो जाते है |
  • तुलसी को खाने से मुह की दुर्घंध गायब हो जाती है |