पेशाब में जलन का उपचार – Treatment Of Irritation Of Urine In Hindi

रोग व इलाज

अगर आप को पेशाब में जलन और गुप्तांग में दर्द की समस्या होती है तो सचेत हो जाएँ और उपचार करवा ले क्योंकि कभी कभी यह समस्या गंभीर बीमारियों का संकेत भी माना जाता है | स्वस्थ रहने के लिए आपके शरीर में जल की मात्रा 70 प्रतिशत होनी चाहिए , लेकिन जल को ग्रहण करने के साथ हम कई प्रकार के विषैले पदार्थ भी उसके साथ ग्रहण कर जाते है । इन विषैले पदार्थो को हमारा शरीर मूत्र विर्सजन की प्रकिया के द्वारा बाहर निकाल देता है ।

यूरिन में जलन

हमारे शरीर को स्वस्थ्य रखने में मूत्र विर्सजन प्रकिया की एक अहम भूमिका रहती है। कई बार हमें पेशाब करने में जलन होती है, वैसे तो यह एक आम समस्या होती है । मगर कई बार इस समस्या के दौरान आपको पेशाब रूक – रूक कर आने के साथ साथ आपके गुप्तांग में दर्द भी होने लगता है | इस समस्या को मूत्रक्रच्छ कहा जाता है और यह समस्या किसी को भी हो सकती है । मूत्र त्याग में जलन के द्वोरान कभी-कभी गुप्तांग में सूजन भी आ जाती है । यह बिमारी वैसे तो कुछ दिन में ठीक हो जाती है, परन्तु उचित इलाज न लेने पर यह एक गंभीर समस्या का रूप ले सकती है । इसके होने के निम्न कारण है।

मूत्र में जलन के कारण

  • हमारे शरीर को 24 घटें में कम से कम 3 लीटर पानी की आवश्यकता होती है। कई बार हम इस उचित मात्रा में पानी नहीं लेते है, और इसके कारण हमें जलन की समस्या का सामना करना पड़ता है।
  • मधुमेह की बिमारी में भी पेशाब में जलन की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। ( और पढ़े – मधुमेह का उपचार )
  • अधिक तेल, मिर्च-मसाले या बाहर की तैलीय चीजों के अधिक सेवन से भी आपको जलन की समस्या हो सकती है।
  • शराब, कॉफ़ी, धूम्रपान के अधिक सेवन के कारण जलन की समस्या होती है। ( और पढ़े – धूम्रपान छोड़ने के उपाय )
  • कई बार पानी के दूषित होने के कारण भी क्योंकि आप यह दूषित पानी का प्रयोग पीने में कर लेते है,जिससे जलन होती है।
  • यदि आपके लिवर में कोई समस्या है या वह कमजोर है, तब भी आपके जलन की समस्या हो सकती है। ( और पढ़े – लीवर को स्वस्थ बनाने के उपाय )
  • अधिकतर लोग अपनी पेशाब को रोक कर रखते है, जिसके कारण आपको जलन की समस्या का सामना करना पड़ता है ।
  • यदि आपको पथरी की समस्या है, तो भी आपके जलन हो सकती है । ( और पढ़े – पथरी का उपचार )
  • कई बार अनचाहे यौन सबंधो के कारण जलन होती है ।
  • गुप्तांग में इन्फेक्शन के कारण भी आपके पेशाब में जलन की समस्या होती है ।

 लक्षण

  • पेशाब करते समय आपके गुप्तांग में अत्यधिक जलन और दर्द महसूस होता है ।
  • यदि आपको पेशाब में जलन की समस्या है, तो आपको पेशाब करने में ताकत लगाना पड़ता है ।
  • इस समस्या के द्वोरान आपको पेशाब रूक – रूक कर और बार-बार आती है व पेशाब भी पर्याप्त मात्रा में नहीं होती है ।
  • यदि आप पर्याप्त मात्रा में पानी पीते हैं, तो आपके पेशाब का रगं सफेद होता है। परन्तु जलन की समस्या के दौरान आप यदि पर्याप्त मात्रा में पानी पी रहे है, फिर भी आपकी पेशाब का रगं सफेद न होकर हल्का पीला हो जाता है।
  • पेशाब में जलन के कारण आपके शरीर से विषैले पदार्थ बाहर नहीं निकल पाते और आपकों पेट में दर्द रहता है। ( और पढ़े – पेट दर्द का उपचार )
  • इस समस्या के द्वोरान आपके पेशाब से तीव्र बदबू आने लगती है।

जलन का उपचार

पर्याप्त मात्रा में पानी पियें

अधिकतर लोगो में पेशाब में जलन की समस्या उनके द्वारा पानी की उचित मात्रा न लेने के कारण होती है। एक आम इन्सान को एक दिन में कम से कम एक लीटर की मात्रा में पानी पीना चाहिए। इससे हमारे शरीर में कई प्रकार की समस्याओं का समाधान हो जाता है। इसलिए हमें उचित मात्रा में पानी पीते रहना चाहिए जिससे शरीर में पानी की उचित मात्रा मिलती रहें और पेशाब में होने वाली समस्या से दूर रहें।

नारियल पानी

अगर आपके पेशाब में पीलापन आ रहा है, तो आपको डिहाइड्रेशन की समस्या है । इससे छुटकारा पाने के लिए नारियल का पानी आपकी बहुत सहायता कर सकता है । नारियल के पानी में कई प्रकार के मिनरल्स पाए जाते है, जिससे जलन की समस्या से निजात मिलती है ।

विटामिन सी युक्त फल

पेशाब में जलन की समस्या के दौरान आपको विटामिन सी से युक्त फलों के सेवन को बड़ा देना चाहिए, क्योंकि इनमें युक्त साइट्रिक एसिड पेशाब में जलन करने वाले बैक्टीरिया को नष्ट कर देता है।

भरपूर फल खायें

कई प्रकार के फल और उनके रस में भी इस समस्या से लड़ने की शक्ति पाई जाती है । तरबूज खाने और अनार के रस से भी जलन की समस्या से निजात पाई जा सकती है ।

बेकिंग पाउडर का प्रयोग

बेकिंग पाउडर को एक चम्मच मात्रा में पानी में मिलाकर पीने से पेशाब में मौजूद एसिडिटी खत्म हो जाती है,और जलन की समस्या से छुटकारा प्राप्त हो जाता है ।

बादाम का प्रयोग

बादम में कई प्रकार के शरीर को फायदा पहुंचाने वाले पोषक तत्व पाए जाते है । बादम के 10 दानों को 5 इलायची के दानों के साथ शक्कर या मिश्री के साथ अच्छी तरह पीसकर पानी में मिलाकर पीने से जलन की समस्या से निजात मिलती है । ( और पढ़े – बादाम खाने के फायदे )

स्वस्थ आहार का सेवन करें

यदि आप पेशाब में जलन की समस्या से परेशान है, तो आपको तेल व मिर्च-मसाले के अधिक सेवन से दूर रहना चाहिए । स्वस्थ आहार का सेवन करने से इस समस्या में आराम मिलता है और इस समस्या के होने से बचाव भी होता है |

नीरी टैबलेट का प्रयोग

नीरी एक आयुर्वेदिक दवा है। जो विशेष सयोंजन और लगभग 18 अद्वितिय सामग्री का एक मिश्रण है । यह पेशाब में जलन की समस्या के लिए बहुत कारगर दवा है । इसको सुबह-शाम लगभग सात दिन तक लेने से जलन की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है । डॉक्टर से परामर्श करके ही इसका सेवन करें |

लेसिक्स दवा का प्रयोग

यह दवा इंजेक्शन और टैबलेट दोनो रूपों में उपलब्ध होती है । इसके सेवन से भी आपको होने वाली जलन से राहत प्राप्त होती है । डॉक्टर से परामर्श करके ही इसका सेवन करें |

इस रोग  होने पर सावधानियाँ

  • इस समस्या से बचने के लिए हमेशा साफ पानी पीयें और पानी एक उचित मात्रा में ग्रहण करें।
  • कभी भी किसी भी परिस्थिती में हमें पेशाब को रोक कर नहीं रखना चाहिए । यह होने वाली जलन का एक प्रमुख कारण है ।
  • बाहर मिलने वाली तेलीय, मिर्च-मासले से युक्त चीजों और पैक बदं चीजों के सेवन से दूर रहना चाहिए।
  • शराब और धुम्रपान के अधिक सेवन से दूर रहना चाहिए।
  • गुप्तांग में होने वाले किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन को आम नहीं समझना चाहिए इसका उचित ढगं से इलाज करवाना चाहिए ।
  • शरीर में कभी भी विटामिन की कमी नहीं होने देना चाहिये ।
  • हमें हमेसा अनचाहे यौन सबन्धों से या दूर रहना चाहिये नहीं तों उचित निरोध का प्रयोग करना चाहिए ।
  • लीवर में होने वाली समस्या से बचाव कर्ण और साफ पानी पीये व विषैले पदार्थो के सेवन से दुर रहें ।
Tagged पेशाब रोग
MANVENDRA
HEALTH BLOGGER AND DIGITAL MARKETER AT SOFT PROMOTION TECHNOLOGIES PVT LTD

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *