जानिए कि आपके शरीर की मजबूती के लिये सप्‍लीमेंट फायदेमंद है या नही – Benefits of Body Health Supplement In Hindi

0
115
benefit of Supplement

सप्‍लीमेंट हमारे शरीर के लिये फायदेमंद होता है | लेकिन अगर आप बिना डॉक्टर की सलाह लिये इसका प्रयोग करते है | तो कभी कभी इसका प्रयोग हमारे शरीर को नुकसान भी पहुचता है | वैसे तो सप्‍लीमेंट हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में हमारी बहुत मदद करता है | कई बार हमें नियमित आहार के सेवन से भी जरूरी पोषक तत्‍व नहीं मिल पाते है | जिसकी वजह से हमारे शरीर में कई प्रकार की समस्या होने लगती है | इसीलिये आपको डॉक्टर की सलाह लेकर सप्‍लीमेंट का प्रयोग करना चाहिये | आज आपको हम इसी विषय पर जानकारी देने जा रहे है | कि आपको किस प्रकार के बॉडी सप्‍लीमेंट का सेवन करना चाहिये |

बॉडी सप्‍लीमेंट का सेवन करते समय इन चीजो का ध्यान जरुर दे

ओमेगा-3 फैटी एसिड युक्त सप्‍लीमेंट का सेवन करे

ओमेगा 3 और फैटी एसिड हमारे शरीर की मजबूती के लिये बहुत जरूरी होता है | ओमेगा 3 और फैटी एसिड हमारे दिल और दिमाग को मजबूत बनाता है | इसके अलावा ये हमारी धमनियों को होने वाले नुकसान से भी बचाता है | ओमेगा 3 और फैटी मछली में भरपूर मात्रा में पाया जाता है | इसीलिये अगर आप किसी  भी बॉडी  सप्‍लीमेंट का सेवन कर रहे है | उसमे ओमेगा 3 और फैटी एसिड की मात्रा को जरुर देख ले |

विटामिन डी युक्त हो

हम सभी जानते हैं, की हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए हमारे शरीर को विटामिन डी बहुत जरूरी होता है | इस बात की पुष्टि नेशनल कैंसर इंस्‍टीट्यूट द्वारा किये गये एक शोध के अनुसार भी की गयी है | की शरीर में विटामिन डी की कमी से अधिकतर पैंक्रियाटिक और कोलोरेक्‍टल के कैंसर जैसी बीमारी होने का खतरा भी बना रहता है | इसीलिये आपको भी विटामिन डी युक्त सप्‍लीमेंट का ही सेवन करना चाहिये |

लाइकोपीन की मात्रा अधिक हो

लाइकोपीन एंटीऑक्‍सीडेंट का बहुत अच्‍छा स्रोत होता है | इसकी कमी हो जाने के कारण हमारे शरीर का विकाश भी रुक जाता है | टमाटर में लाइकोपीन सबसे अधिक अधिक मात्रा में पाया जाता है | अगर आप किसी सप्‍लीमेंट का सेवन करने जा रहे | तो लाइकोपीन की मात्रा को जरुर देख ले क्योंकि लाइकोपीन से ही हमारे शरीर में रक्त की मात्रा अधिक होती है | और हमारा शरीर मजबूत बनता है |

कोएंजाइम क्‍यू10 युक्त भी होना चाहिये

कोएंजाइम क्‍यू10 एक प्रकार का प्राकृतिक एंटीऑक्‍सीडेंट है | जो हमारी हृदय की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में हमारी बहुत मदद करता है | कोएंजाइम क्‍यू10 हमारी पार्किंसंस में होने वाली बीमारी के खतरे को भी दूर करता है | इसीलिये आपको अपने सप्‍लीमेंट में कोएंजाइम क्‍यू10 का भी ध्यान रखना चाहिये |

प्रोवॉयोटिक्‍स भी होना चाहिये

हमारे सप्‍लीमेंट में प्रोवॉयोटिक्‍स का होना भी बहुत जरुरी है | क्योंकि यह एक प्रकार के बैक्‍टीरिया होते हैं | जो हमारी पेट की आंत में पाये जाते हैं | और यह हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने में हमारी मदद करते है | और हमारी पाचन संबंधी सभी समस्‍याओं को भी दूर भी करते हैं | प्रोवॉयोटिक्‍स दूध के अलावा सोया के उत्‍पादों में भी प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं | प्रोवॉयोटिक्‍स की वजह से ही हमारा शरीर मजबूत बनता है | अगर आप कोई सप्‍लीमेंट का सेवन करने जा रहे है | तो आपको अपने सप्‍लीमेंट में प्रोवॉयोटिक्‍स का जरुरी ध्यान रखना चाहिये |

बॉडी सप्‍लीमेंट किस प्रकार शरीर को नुकसान पंहुचा सकता है

सामान्य समस्याओं का होना

अगर आप बिना डॉक्टर की सलाह लेकर किसी सप्‍लीमेंट का सेवन करने जा रहे है | तो आपको इसके कई घातक परिणाम देखने को मिल सकते है | जैसे कि

  • पूरे शरीर में दाने निकल आना
  • शरीर और कमजोर हो जाना
  • आँखों की रोशनी कम हो जाना
  • रक्त संचार में खराबी आना
  • शरीर में दर्द होने लगना

आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है | इसीलिये जब भी किसी शरीरवर्धक दवा का सेवन करे | तो सबसे पहले डॉक्टर से जरुर सलाह ले |

सॉर्बीटॉल की वजह से

सॉर्बीटॉल पानी की तरह दिखता है | लेकिन ये तेल की तरह गाढ़ा पदार्थ होता है | जिसका प्रयोग च्यूइंग-गम बनाने में बहुत अधिक प्रयोग किया जाता है | सॉर्बीटॉल के सेवन से हमारे पाचन तंत्र पर बुरा प्रभाव पड़ता है | इसीलिये अगर आप अपने सप्‍लीमेंट में सॉर्बीटॉल की मात्रा को अधिक पाये तो उस सप्‍लीमेंट का सेवन तुरंत बन्द कर दे |

एस्पार्टेम से

एस्पार्टेम एक तत्व होता है | जो चीनी से भी कई गुना मीठा होता है | इसका सेवन डाइटिंग करनेवाले या फिर डायबिटीज़ से ग्रस्त रोगीयों को दिया जाता है | इसीलिये अगर आपके सप्‍लीमेंट में एस्पार्टेम में इसकी मात्रा अधिक है | आपको उस सप्‍लीमेंट का सेवन बन्द कर देना चाहिये |

एसीफ़सल्फ़ेम पोटेशियम की वजह से

यह एस्पार्टेम से भी खतरनाक पदार्थ होता है | एसीफ़सल्फ़ेम पोटेशियम की वजह से ही हमारे शरीर में कई प्रकार की समस्या होने लगती है | जैसे पेट दर्द, उल्टी, त्वचा पर दाने का निकलना, शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में कमी आना आदि समस्या का सामना करना पड़ता है | इसीलिये एसीफ़सल्फ़ेम पोटेशियम युक्त सप्‍लीमेंट का सेवन ना करे |

अगर आप भी अपने कमजोर शरीर से परेशान है | और किसी किसी सप्‍लीमेंट का सेवन करने जा रहे है | तो आपको उस शरीरवर्धक दवा में ऊपर दिए हुये प्रदार्थ को जुरूर देखना चाहिये |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.