नपुसंकता क्या है और क्यों होती जानिए : NPUSNKTA FACTOR IN HINDI

0
192
नपुसंकता क्या है व इसके कारण

नपुसंकता का मतलब शारीरिक संबंध बनाते समय किसी भी तरह की परेशानी आए तो रिश्तों में  दुरी सकती है। नपुंसकता या स्तंभन दोष भी एक ऐसी ही परेशानी हैं। पुरुषों के लिये नपुंसकता का हो जाना एक तनाव में डाल देने वाली स्‍थति के समान होती है।

संभोग करते समय जब कोई पुरुष संतोषजनक आनंद नही उठा पता है तो उसे ही नपुंसकता कहते है |यह पुरुषों से संबंधित एक परेशानी है। नपुंसकता या स्तंभन दोष वह समस्या होती है, जिसमें एक पुरुष संभोग के लिए पर्याप्त आनंद न उठा पाता तथा स्तम्भन को पाने या उसे बरकरार नही रख पाता है।

तथा वह शारीरिक संबंध बना नही पाता है। इस स्थिति को हम नपुंसकता कहते है । अगर यह परेशानी एक या दो बार हो तो इतनी घबराने वाली बात नहीं है, लेकिन अगर यह रोज ही होने लगे तो आपको सावधान हो जाना चाहिये |

स्तंभन क्या है ?

स्तंभन वह स्थिति है जिसमें सम्भोग करते समय पुरुष के लिंग का आकार बढ़ जाता है और कठोर हो जाता है। यौन रूप से उत्तेजित होने पर लिंग की धमनियाँ अपने आप फैल जाती हैं, जिसके कारण बहुत ज्यादा खून तीन स्पंजी ऊतको के अंदर मौजूद कक्षों मे चला जाता है और इसे लंबाई और कठोरता प्रदान करता है।

यह खून भरे ऊतक खून को वापस ले जाने वाली शिराओं पर दबाव डाल कर सिकोड़ देते है, जिसके कारण ज्यादा खून अन्दर चला जाता है और कम खून बापिस लौटता है | ऐसा होने से लिंग को एक सीधा निश्चित आकार मिलता है।

नपुंसकता के लक्षण क्या हो सकते

  • सम्भोग करते समय लिंग में उत्तेजना आने में परेशानी हो तो, नपुंसकता की समस्या हो सकती है।
  • शारीरिक सम्बन्ध बनाते समय दौरान यदि उत्तेजना में कमी हो तो इसे भी नपुंसकता के लक्षण माने जाते हैं।
  • समय से पहले वीर्य का निकलना और बहुत समय तक वीर्य का निकलना भी नपुंसकता के लक्षण है।
  • इन लक्षणों में से कोई यदि कोई लक्षण आप में दिखाई दे तो आप अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें। खासकर तब जब यह लक्षण दो या दो से अधिक महीनों से चल रहें हो।

जानिए कुछ नपुंसकता के कारण

हृदय रोग भी है इसका कारण –

आज के बदलते समय में हृदय रोग एक ऐसी बड़ी बीमारी है जो आजकल हर वयक्ती में देखने को मिल रही है । इस बीमारी के कारण हमारे शारीरिक संबंध भी खराब हो जाते है। इससे नपुंसकता आ सकती है।

शुगर भी है इसका मुख्य कारण –

कुछ साल पहले तक शुगर की बीमारी  होने की औसत उम्र 40 साल थी जो अब कम हो कर कर 25 से 30 साल हो चुकी है। यह रोग अगर बढ़ जायें तो यह शरीर में नपुसंकता का रूप धारण कर लेती है । अच्छे और स्वास्थ खून की धमनियां, टेस्टोस्टेरोन का स्तर, स्वस्थ तंत्रिकाओं और अच्‍छे विचारो के होने से ही यौन सुख मिलता है। लेकिन शुगर के कारण से खून की धमनियों और तंत्रिकाओं पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है, जिससे ये परेशानी पैदा हो जाती है।

हाइपरलिपिडिमिया के कारण –

हाइपरलिपिडाइमिया एक ऐसी बीमारी है |यह बीमारी तब होती है जब आपके खून में बहुत ज्यादा मात्रा में वसा हैं यानी, कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स। इस बीमारी के कारण आपके शरीर में नपुंसकता आ सकती है। जब धमनियां पूरी तरह से बंद हो जाएंगी तो खून का रक्त संचार भी रुक जायगा । जिससे आपके गुप्तांग पर असर पड़ने लगेगा।

उच्च रक्तचाप से नपुसंकता –

उच्च रक्तचाप यानि हाई ब्लड प्रेशर जिसे कभी कभी धमनी उच्च रक्तचाप भी कहते हैं, यह एक पुरानी बीमारी है। इससे भी नपुंसकता की समस्या आ सकती है।

तनाव में ना रहे –

आज के समय में हर कोई वयक्ती पे काम का बोझ है तथा इसके साथ साथ वक्त की कमी, रिश्तों के बीच बढ़ती दूरियां, अकेलापन और महत्वाकांक्षाएं आदि मानसिक तनाव या चिंता कई रोगों को बुलावा देती है। इसलिए इन सब से बचने के लिए आपको वयायाम करना चाहिए क्योकि वयायाम करने से मन शांत रहता है |

अधिक वजन होने के कारण नपुसंकता का होना –

आज के जमाने में मोटापा शहरी जीवन की एक आम परेशानी बन चुकी है। मोटापे के कारण हमें कई प्रकार की बीमारियों का सामना करना पड़ता है। इसका सीधा असर लिंग पर पड़ता है और पुरषों में हार्मोन का बनना बंद हो जाता है । यह बीमारी नपुंसकता जैसी बीमारी को उभारती है,इसलिये प्रतिदिन कम से कम 45 मिनट जरुर व‍यायाम करें और मोटापा घटा कर ब्‍लड सर्कुलेशन बढाएं।

धूम्रपान से खतरा –

धूम्रपान करते समय ऐसे कई रसायन और पदार्थ आपके शरीर के अन्दर चले जाते हैं, जो हमारे शरीर के स्वास्थ्य के लिए सही नहीं है। यदि आप धूम्रपान करते हैं तो आपको सतर्क होना पड़ेगा । धूम्रपान, इसका सबसे बड़ा कारण है |इससे शरीर में ठीक तरह से रक्त संचार नहीं होता। जिसके कारण आप संभोग उचित रुप से नही कर पाते |

शराब का सेवन से भी होती है नपुसंकता –

शराब के बहुत ज्यादा सेवन से उच्च रक्तचाप, दिल, लीवर, मोटापा और गठिया जैसी अनेक बिमारियें पैदा हो जाती है। धूम्रपान के अलावा शराब का सेवन भी आपके यौन संबंध को खराब कर सकता है।

अन्य कारणों से भी नपुसंकता –

नशीली दवाओं के सेवन से भी ये नशीली दवाये आपके शरीर में नपुंसकता की समस्या को पैदा कर देती है। और इसके साथ अनेक ऐसी दवाइयां जो हाई बीपी या तनाव दूर करने के लिये प्रयोग में लायी जाती हैं, वह आपके यौन सम्बन्धो के लिये अच्‍छी नहीं मानी जाती।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.