संक्रमण के कारण लक्षण व बचाव – Infections in Hindi

0
105
संक्रमण के कारण लक्षण व बचाव

संक्रमण होने पर मनुष्यों में कई प्रकार की समस्या होने लगती है | मनुष्य कई प्रकार से संक्रमण से ग्रस्त हो सकता है | संक्रमण का मतलब होता है जब कोई बाहरी सूक्ष्म जीव प्रजनन करने के लिए हमारे शरीर का सहारा लेता है | जिसके कारण हम किसी रोग से ग्रस्त हो जाते है | इन जीवों को हम अपनी खुली आँखों से नही देख सकते है | इनकी वजह से होने वाले रोग छूआ-छूत के कारण भी फैलने लगते है | इन सूक्ष्म जीवों को कई नाम से जाना जाता है | जैसे

  • बैक्टीरिया
  • वायरस
  • कवक
  • प्रोटोजोवा
  • पैरासाईट
  • प्रायन

आदि होते है | कुछ संक्रमण होने पर हम अपना उपचार करवा के ठीक हो सकते है | लेकिन कुछ के कारण हमें अपनी जान से गवानी पड़ती है | हर साल पूरे विश्व में लगभग 50 लाख लोग संक्रमण के कारण अपनी जान गवा देते है | अब आइये जानते है | इन सूक्ष्म जीवों के द्वारा होने वाले संकर्मण के बारे में |

संक्रमण के प्रकार

बैक्टीरियल संक्रमण से होने वाली समस्या – बैक्टीरियल संक्रमण बैक्टीरिया के कारण होती है | जो हर प्रकार के वातावरण में अपने आप को ढाल लेते है | इसीलिए ये बहुत जल्दी मनुष्यों को प्रभावित भी कर देते है | इनकी वजह से कई प्रकार की समस्यों का सामना करना पड़ता है | जैसे

  • फ़ूड पोइजनिंग |
  • त्वचा की समस्या |
  • निमोनिया व टीबी की समस्या |
  • यौन संबंधी रोग |
  • पेट व सुजन व साइनस |

वायरल इन्फेक्शन से होने वाली समस्या – वायरल इन्फेक्शन वायरस के कारण हमारे शरीर को नुकसान पहुचाते है | ये मनुष्य के शरीर में बहुत आसानी से अपनी जगह बना लेते है | इनके शरीर में जगह बनाने के कुछ समय तक मनुष्य को लगता है | की वह स्वस्थ है | लेकिन वायरस के सक्रीय होते ही मनुष्य तुरंत किसी ना किसी बीमारी का शिकार हो जाता है | वायरस के कारण भी हमें कई बीमारियों का सामना करना पड़ता है |

  • जीका वायरस हो जाता है |
  • HIV ( और पढ़े HIV की जाँच )
  • डेंगू व स्वाइन फ्लू |
  • सर्दी जुखाम व पीलिया |
  • पोलियो, व इबोला आदि |

फंगल संक्रमण की परेशानी का सामना करना पड़ता है – मनुष्यों में फंगल संक्रमण केवल फंगस व कवक के कारण ही आती है | इनके सम्पर्क में आने से हमारे शरीर को कई प्रकार से नुकसान पहुचती है |

  • कैंडिडिआसिस की समस्या हो जाती है |
  • दाद व खुजली हो जाती है |
  • एथलीट फुट की समस्या ओने लगती है |
  • मुंह में थ्रश होने लगती है |

संक्रमण फैलने की वजह

अनुवांशिक कारणों की वजह – कभी कभी अनुवांशिक कारणों की वजह से हमारा शरीर इन्फेक्शन का शिकार हो जाता है |

कीड़ों के काटने की वजह से – कई बार मौसम बदलाव के कारण कई कीट हमारे शरीर को कट लेते है | जिसकी वजह से हमारा शरीर इन्फेक्शन का शिकार हो जाता है |

माँ से बच्चे को – अगर माँ किसी संकर्मण का शिकार है | तो उसके द्वारा बच्चे को भी वह बीमारी हो जाती है |

खराब वाशी भोजन की वजह से – खराब व वाशी खाना खाने से हमारा शरीर इन्फेक्शन से ग्रस्त हो जाता है |

किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से – किसी इन्फेक्शन ग्रस्त वाले वयक्ती के पास बैठने से उसके द्वारा खासने व छीकने के कारण हमारे शरीर में भी वही इन्फेक्शन हो जाता है |

जानवरों की वजह से – कई बार हम घर में पाले जानवरों के साथ खेलने की वजह से भी किसी ना किसी इन्फेक्शन का शिकार हो जाते है |

टीके ना लगवाने की वजह से – अगर किसी बच्चे को सही समय पर टीके ना लगवाये जाये | तो अग्गे चलकर बच्चा किसी ना किसी गंभीर समस्या का शिकार हो जाता है |

इन्फेक्शन होने पर शारीर में दिखाई देने वाले लक्षण

  • खासी व बुखार आने लगता है |
  • दस्त होने लगते है |
  • थकान अधिक होने लगती है |
  • मांशपेशियो में दर्द अधिक होने लगता है |
  • शारीर पर दाने निकालने लगते है |
  • सिर में व शरीर में बहुत तेज दर्द होने लगता है |
  • आँखों की रोशनी कम होने लगती है |
  • साँस लेने में परेशानी का सामना करना पड़ता है |

संक्रमण से बचने के आसान तरीका

स्वस्थ भोजन करे

स्वस्थ भोजन करने से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनती है | जिससे हम किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन का शिकार नही हो पाते है |

किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचे

जब किसी संक्रमित व्यक्ति के पास जाये तो हमेशा मुंह पर मास्क का प्रयोग जरुर करे | ओर कुछ भी खाने से पहले अपने हाथ पैर को अच्छी तरह से जूरुर साफ़ करे |

रात को सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग –

रात को सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करने से हम वातावरण में उड़ने वाले कीड़ो से बच जाते है | अगर हो सके तो अपने शरीर पर क्रीम का प्रयोग भी करे |

अपने शारीर को हमेशा को साफ रखे –

शारीर को साफ़ रखने से हमारे शरीर में होने वाले फगल इन्फेक्शन से कभी भी ग्रस्त नही होंगे |

HIV से बचने के लिए हमेशा इन बातों का ध्यान रखे

HIV जैसे इन्फेक्शन से बचने के लिए हमेशा इन बातों का जरुर ध्यान दे | हमेशा यौन सम्बंद बनाते समय कंडोम का प्रयोग करे | हमेशा साफ़ सुई से ही टीका लगवाये |

अगर आप भी किसी संक्रमण से ग्रस्त है | या फिर आप इनसे बचना चाहते है | तो आपको ऊपर दी हुई बातों को ध्यानपूर्वक पढना चाहिये | अगर आप हमसे कोई राय या किसी समस्या का उपचार लेना चाहते है | तो हमें हमारे कमेंट बॉक्स में जुरूर बताये |

और पढ़े – (फंगल संक्रमण का आयुर्वेदिक उपचार – Fungal Infection Treatment In Hindi)

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.