हाइपोथायराइड का आयुर्वेदिक इलाज – Hypothyroidism Treatment In Hindi

0
151
हाइपोथायराइड का घरेलु उपचार

हाइपोथायराइड एक प्रकार की गंभीर बीमारी है | ये बीमारी 18 से 50 की उम्र वाले सभी व्यक्तियोंको हो सकती है | ये बीमारी हमारी गलत खानपान की आदतों की वजह से हमारे शरीर में जन्म लेती है | इस बीमारी के हो जाने पर हमारे गले में समस्या होने लगती है | डॉक्टरों के अनुसार गले में पाये जाने वाली थायराइड ग्रंथियों से निकलने वाला हार्मोन थायरोक्सिन कम हो जाता है |

जिसकी वजह से हमारे शरीर को इस प्रकार की बीमारी का सामना करना पड़ता है | हमारे शरीर में थायरोक्सिन हॉर्मोन की मात्रा कम होने की वजह से हमारा मेटाबोलिज़्म तेज काम करने लगता है | जिसकी वजह से हमारे शरीर की उर्जा जल्दी खत्म होने लगती है | और हम इस बीमारी से ग्रस्त हो जाते है | आइये अब जानते है | इसके कुछ सामान्य से लक्षणों के बारे में |

हाइपोथायराइड के लक्षण

  • कमजोरी महसूस होना |
  • ठण्ड का सहन नही होना |
  • त्वचा में इन्फेक्शन होना |
  • जोड़ो में दर्द होना |
  • बालों का झड़ना |
  • रक्ताल्पता होना |
  • स्त्रियों में मासिक रक्तस्त्राव का अधिक होना |
  • बुदि की कमी हो जाना |
  • सुनाई कम देना |
  • बजन का बढ़ना |

हाइपोथायराइड के कारण

दवाएं – दवाओं के साइड इफैक्ट भी भी थायराइड की वजह होती हैं |

आयोडीन की कमी – हमारे भोजन में आयोडीन की कमी की वजह से भी थायराइड होने का खतरा बना रहता है |

तनाव – शरीर में अधिक तनाव लेने से भी हमारे ग्रंथि हार्मोन के स्राव को बढ़ा देती है जिसकी वजह से हमारे शरीर को इस प्रकार की समस्या होने लगती है |

गर्भावस्था – गर्भावस्था के समय महिला के शरीर में कई प्रकार के बदलाव आते है | गर्भावस्था की वजह से भी महिला के ग्रंथि हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है |

सोया उत्पाद का अधिक सेवन – सोफ्लावोन सोया प्रोटीन, कैप्सूल, और पाउडर के रूप में सोया उत्पादों का अधिक सेवन की वजह से भी थायराइड होने का खतरा बना रहता है |

घेंघा की वजह से – घेंघा होने पर हमारे शरीर में थायराइड हार्मोन बनाने की क्षमता कम हो जाती है | जिसकी वजह से हमारे शरीर को इस प्रकार की समस्या होने लगती है |

हाइपोथायराइड का घरेलु उपचार

नारियल का तेल से बने भोजन का सेवन करे

नारियल तेल में फैटी एसिड पाया जाता है |जो हमारी थाइराइड ग्रन्थी को ठीक बनता है | आपको हाइपोथायराइड के उपचार के लिये रोजाना बनाये जाने वाले भोजन में नारियल तेल का इस्तेमाल करें | जिससे आपके शरीर में थायराइड हार्मोन की मात्रा ठीक बनेगी | और आपको कभी भी इस प्रकार की कोई समस्या का सामना नही करना पड़ेगा |

हाइपोथायराइड में लाभकारी होता है सेब का सिरका

सेब का सिरका में एंटीऑक्सीडेंट पाये जाते है | जो हमारे शरीर में थायराइड हार्मोन को मात्रा को बढता है | जिसकी वजह से हमारे शरीर को थाइराइड की समस्या से निजात मिल जाता है | इसके डिटाक्सीफिकेशन के गुण अल्कालाइन के संतुलन को बनाकर हमारे वजन को घटाते है |

हाइपोथायराइड होने पर विटामिन डी अधिक मात्रा में ले

विटामिन डी यक्त पर्दाथ का सेवन करने से भी हमारे शरीर में थायराइड हार्मोन की मात्रा कम नही होती है | जिससे हमारे शरीर को थाइराइड की समस्या से निपटने में आसानी होती है | आप अगर चाहे तो इस समस्या को दूर करने के लिये रोजाना सुबह के समय धूप में टहल सकते है |

अदरक का सेवन दिलाएगा हाइपोथायराइड से आराम :-

अदरक जिंक, पौटेशियम, मैग्नीशियम, विटामिन्स, फास्फोरस, सिलिकॉन, बीटा केरोटिन, कैल्शियम व सोडियम का अच्छा स्त्रोत है | जो हमारे शरीर की कई बीमारियोंं के उपचार के लिये लाभदायक साबित होता है | हाइपोथायराइड जैसी बीमारी के उपचार के लिये आपको अदरक का सेवन चाय बनाकर करना चाहिये |

मछली के तेल का सेवन हाइपोथायराइड के इलाज में लाभदायक होता है

मछली का तेल का सेवन करने से हमारे शरीर को ओमेगा-3 फैटी एसिड जैसे गुणकारी तत्व मिलते है | जो हमारे शरीर में थाइराइड हार्मोन के स्तर को बढ़ता है | साथ ही यह स्वस्थ्य थाइराइड फंक्शन को भी बनाये रखता है | आप हाइपोथायराइड के उपचार के लिये डॉक्टर की सालह लेकर फिश आयल के सप्लीमेंट का सेवन भी कर सकते है |

आयोडीन की सही मात्रा से होगा हाइपोथायराइड का इलाज

आयोडीन की आर्गनिक इनटेक भी हाइपोथायराइजिम में राहत का काम करती है | आपको इस बीमारी के उपचार के लिये आयोडीन युक्त भोजन का सेवन ही करना चाहिये | जिससे आपको घेंघा की समस्या से भी निजात मिल जायेगा |

काले अखरोट से करे हाइपोथायराइड का उपचार

काले अखरोट आयोडीन, पौटेशियम, मैग्नीशियम, मैगनीज जैसे बहुत गुणकारी तत्व पाये जाते है | यह सभी तत्व हमारे थाइराइड ग्लैड को सही रूप से काम करने के लिये हमारे मेटाबोलिज्म को ठीक करते है | जिससे हमारे शरीर की हाइपोथायराइड की समस्या का उपचार बहुत जल्दी हो जाता है |

अगर आपको भी अपने गले में हाइपोथायराइड की समस्या का सामना करना पड़ रहा है | तो आपको ऊपर दिए हुये उपायों का सेवन करना चाहिये |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.