तिल हटाने के घरेलू उपाय – Home Remedies For Mole Removal In Hindi

तिल हटाने के घरेलू उपाय - Home Remedies For Mole Removal In Hindi

चेहरे या त्वचा पर तिल जिसका मेडिकली नाम मेलनोसिटिक नेवी होता है | एक आम समस्या है जिसका न तो कोई नुकसान होता है और न ही कोई तकलीफ होती है | तिल का रंग हल्का भूरा, काला या फिर त्वचा के धब्बों जैसा होता है और यह मेलानोसाइटस ( मेलानिन नाम के रंगबिंदु का निर्माण करती हैं ) के एकत्रित हो जाने की वजह से त्वचा पर तिल के रूप में दिखाई देने लगते हैं | तिल के निकलने के पीछे कई कारण जैसे – आनुवांशिकी, त्वचा पर सूरज की रोशनी का इफेक्ट और हारमोंस में बदलाब आदि | तिल दिखने में छोटे, बड़े, कठोर, मुलायम और बालों के साथ लगभग तीस से चालीस बर्ष की उम्र में दिखना शुरू होते हैं |

तिल हटाने के घरेलू उपाय

उम्र के बढ़ने के साथ साथ कुछ तिल तो अपने आप समाप्त हो जाते हैं और कुछ रह जाते हैं | मगर जो तिल खुदबखुद समाप्त नहीं होते है उन्हें कुछ घरेलु उपायों का प्रयोग करके आसानी से समाप्त किया जा सकता है | मगर इन घरेलु उपायों को प्रयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरुर कर लें | तो आइये जानते है तिल को हटाने के कुछ घरेलु उपाय…

एलोवेरा का प्रयोग

एलोवेरा में टेनिन्स, एन्जाइम्स, विटामिन और खनिज भरपूर मात्रा में पाए जाते है जिससे यह त्वचा के इलाज के लिए प्राक्रतिक औषधि के रूप में काम करता है | एलोवेरा को तिल हटाने के लिए प्रयोग करने पर यह धीरे धीरे काम करता है इसलिए थोडा धैर्य रखे यह तिल हटाने के साथ साथ उसके निशान को भी खत्म करता है | ( और पढ़े – एलोवेरा के फायदे )

सामग्री – ताजा एलोवेरा का जैल, पट्टी ( बैंडेड )

प्रयोग करने का तरीका – तिल के आसपास की त्वचा को अच्छे से साफ कर लें फिर इस पर एलोवेरा के जैल को लगा ले फिर इसे पट्टी की सहायता से बाँध कर तीन से चार घंटो के लिए छोड़ दें | इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार प्रयोग करने से जल्द लाभ मिलता है |

अनानास का प्रयोग

अनानास में साईंट्रिक एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे इसका प्रयोग तिल के ऊपर करने से यह तिल को गलाकर धीरे धीरे खत्म कर देता है |

सामग्री – अनानास का एक छोटा टुकड़ा

प्रयोग करने का तरीका – ताजे अनानास के छोटे से टुकड़े को तिल पर लगाकर धीरे धीरे कुछ देर तक मलते रहे फिर अनानास के टुकड़े को हटा ले | इसके रस को तिल पर पंद्रह मिनट तक लगा रहने दें फिर इसे पानी से धोकर अच्छे से साफ़ कर लें | इस प्रक्रिया को दिन में कई बार दोहरा सकते है इसका लगातार प्रयोग करने से जल्दी लाभ होता है |

आयोडीन का प्रयोग

आयोडीन को तिल हटाने के लिए एक बहुत ही असरदार उपाय माना जाता है, इसे रोजाना नियम से प्रयोग करने पर धीरे धीरे तिल का आकार छोटा होने लगता है और तिल समाप्त हो जाता है | आयोडीन को प्रयोग करते समय किसी किसी को जलन की समस्या होने लगती है अगर आपको भी जलन की समस्या होती है तो आयोडीन का प्रयोग बंद करदें |

सामग्री – आयोडीन, पेट्रोलियम जैली

प्रयोग करने का तरीका – तिल के आसपास की त्वचा पर ज्यादा से ज्यादा पेट्रोलियम जैली को लगाकर तिल पर आयोडीन की बूंदों को डाले और फिर इसे लगा रहने दें | कुछ ही दिनों में तिल खत्म हो जायगा और इसका निशान भी नहीं बनेगा |

अलसी के तेल का प्रयोग

अलसी के तेल में फैटी एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिससे ये त्वचा से दाग धब्बे और झुर्रियों को हटाने के साथ तिल को हटाने का भी काम करता है | अलसी का तेल त्वचा में होने वाले घाव को भरने का भी काम करता है |

सामग्री – तीन से चार अलसी के तेल की बूंदे, तीन से चार बूंदे शहद की बूंदे

प्रयोग करने का तरीका – सामान मात्रा में अलसी के तेल की और शहद की तीन से चार बूंदे मिलाकर एक पेस्ट बना लें | फिर इस पेस्ट को तिल पर लगाकर एक घंटे के लिए ऐसा ही छोड़ दें अब तिल बाली जगह को पानी से धो कर साफ़ कर लें |

लहसून का प्रयोग

लहसून का प्रयोग तिल को हटाने के लिए करना बहुत ही फायदेमंद होता है लहसून का लगातार प्रयोग करने से बहुत जल्दी आप तिल को हटा सकते है | इसको प्रयोग करने से आपके तिल पर एक पपड़ी बनने लगेगी जो धीरे धीरे खुदबखुद हट जाएगी और तिल समाप्त हो जायेगा | मगर ध्यान रहे इस पपड़ी को अपने हाथ से न छुयें |

सामग्री – एक ताजा लहसून, एक साफ़ कॉटन का कपडा

प्रयोग करने का तरीका – लहसून की कलियों को छीलकर पीसकर पेस्ट बना ले | फिर इस पेस्ट को रात के समय सोने से पहले तिल पर लगाकर उसे साफ़ कॉटन के कपडे से बाँध दें और पूरी रात बंधा रहने दें | इस उपाय को हफ्ते में तीन बार प्रयोग करने से बहुत जल्द फायदा मिलता है |

सेब के सिरके से तिल हटायें

सेब के सिरके में पाए जाने वाले एसिड की वजह से तिल को हटाने का एक आसान सरल उपाय होता है | सेब के सिरके को लगातार नियम से तिल पर लगाने से एक पपड़ी बनने लगती है जो कुछ दिन में ही खुद हट जाती है और तिल खत्म हो जाता है |

सामग्री – सेब का सिरका, कॉटन ( रुई ) का टुकड़ा, पट्टी ( बैंडेड )

प्रयोग करने का तरीका – साफ़ कॉटन के टुकड़े को सेब के सिरके में डुबोकर इसे अपने तिल पर लगा ले | फिर इस कॉटन के टुकड़े को रोकने के लिये पट्टी से बांधकर पांच से छः घंटे के लिए बाँधकर छोड़ दे | इस प्रक्रिया को तब तक प्रयोग करते रहे जब तक पपड़ी बनना शुरू न हो जाए और जल्दी ही कुछ दिनों में तिल समाप्त हो जायेगा |

अरंडी का तेल

अरंडी का तेल तिल को हटाने का बहुत ही असरदार उपाय है | अरंडी के तेल को तिल हटाने के लिए प्रयोग करते समय आपकी त्वचा पर लाली और सूजन आ सकती है मगर घबरायें नहीं कुछ दिनों में धीरे धीरे यह अपने आप समाप्त हो जाएगी | अरंडी के तेल में बेकिंग सोडा को मिलाकर लगाने से यह तिल को सुखा देता है और तिल ख़त्म हो जाता है |

सामग्री – तीन से चार अरंडी के तेल की बूंदे, दो चमच्च बेकिंग सोडा, पट्टी ( बैंडेड )

प्रयोग करने का तरीका – तीन से चार चमच्च अरंडी के तेल में दो चमच्च बेकिंग सोडा मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें | अब इस पेस्ट को अपने तिल पर लगा लें फिर इस तिल को पट्टी से बांधकर रात भर के लिए ऐसा ही छोड़ दें | इस प्रक्रिया को रोजाना नियम से रात में लगातार प्रयोग करने से जल्द लाभ मिलता है |

प्याज के रस का प्रयोग

प्याज के रस में प्राक्रतिक रूप से एसिड पाए जाता है जो दर्द को कम करने के साथ तिल को झडाकर हटाने का काम करता है |

सामग्री – एक प्याज

प्रयोग करने का तरीका – प्याज के एक चौथाई टुकड़े का रस निकाल कर इस रस को तिल के ऊपर लगा दें | अब इस रस को तिल पर दस से पन्द्रह मिनट तक लगा रहने दें फिर इसे पानी से धोकर साफ़ कर लें | इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराने से जल्द लाभ मिलता है |