Hepatitis-A Treatment In Hindi

हेपेटाइटिस ए के कारण लक्षण व आसान इलाज – Hepatitis A Treatment In Hindi

रोग व इलाज

हेपेटाइटिस व्यक्ति के लीवर में होने वाली एक गंभीर समस्या होती है | जो संक्रमण के कारण व्यक्ति के शरीर में जन्म लेती है | जिसका अगर सही समय पर इलाज ना कराया जाये | तो व्यक्ति को गंभीर समस्या से सामना करना पड़ेगा | हेपेटाइटिस एक प्रकार की वायरस से जुडी समस्या होती है | जो व्यक्ति को किसी भी माध्यम से प्रभावित कर सकती है | हेपेटाइटिस कई प्रकार व चरण होते है | दोस्तो आज हम आपको हेपेटाइटिस ए से जुडी सभी समस्या के बारे में पूर्ण जानकारी देंगे तो आइये जानते है | हेपेटाइटिस को विस्तार पूर्वक से


हेपेटाइटिस ए क्या है और किस वजह से हमारे शरीर को प्रभावित करता है

हेपेटाइटिस ए वायरस के द्वारा व्यक्ति के शरीर में जन्म लेता है | यह एक प्रकार की संक्रामक समस्या होती है | जो व्यक्ति के लीवर को प्रभावित करती है | इस रोग की वजह से व्यक्ति के लीवर में सुजन की परेसानी आने लगती है | यह रोग कई चरणों में होता है | तो आइये जानते है उन चरणों के बारे में |

जाने बीमारी के चरणों के बारे में

प्रथम चरण

प्रथम चरण में व्यक्ति को शुरआती समय में बहुत तेज दर्द की समस्या होती है | दर्द की वजह से भूख में कमी व शरीर पिला पड़ने लगता है | अधिकतर देखा गया है | यह लक्षण कुछ ही समय में व्यक्ति के शरीर से गुम हो जाते है | इन लक्षण की वजह से व्यक्ति का पाचन तंत्र खरब हो जाता है |

दूसरा चरण

दूसरा चार व्यक्ति को कई समय बाद परेसान करता है | सीधे शब्दों में कहे तो जब हेपेटाइटिस व्यक्ति के शरीर में घर कर लेता है | इस चरण में व्यक्ति को लीवर में सुजन की समस्या आने लगती है |

तीसरा चरण या लीवर सिरोसिस की समस्या का आना

यदि लीवर में स्तिथ ऊतक में घाव होने लगता है | यह समस्या अपने आप ठीक नही हो पाती है | इस घाव के कारण व्यक्ति की ग्रासनली की नशों से रक्त निकलने जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है |

लास्ट चरण

इस चरण में व्यक्ति का लीवर पूरी तरह ख़राब हो जाता है | इस वजह से व्यक्ति को लीवर का कैंसर जैसी समस्या भी हो जाती है | इस चरण में पीलिया, भूख की कमी, पेट में सूजन की समस्या अधिक होती है | इसके साथ ही साथ व्यक्ति की ग्रासनली से रक्त व तंत्रिका तंत्र पूरी तरह खरब हो जाता है |

जाने इस रोग के कारणों के बारे में

  • गन्दा पानी पिने की वजह से |
  • दूषित तालाब की मछली का सेवन करने की वजह से |
  • संक्रमित महिला या व्यक्ति के साथ यौन संबंध की वजह से |
  • शौचालय के बाद बिना हांथ धुले भोजन का सेवन करने से |
  • दूषित भोजन का सेवन करने से |
  • संक्रमित व्यक्ति से अधिक मिलने जुलने से |

इसके लक्षण के बारे में |

हेपेटाइटिस ए होने पर शरीर में कई प्रकार के लक्षण देखने को मिलते है | आइये जानते है | उन लक्षणों के बारे में |

  • बहुत जल्दी थकान हो जाना |
  • गाढ़े रंग का पेशाब का आना |
  • मतली और उल्टी जैसी समस्या का होना |
  • भूख में कमी आ जाना |
  • अधिक पेट दर्द का होना |
  • नियमित बुखार का आना |
  • शरीर के सभी जोडों में दर्द का होना |
  • त्वचा व आँखों में पीलापन आने लगना |

इस समस्या का आसान इलाज

हेपेटाइटिस ए जैसी समस्या शरीर अपने आप ठीक करता है | इसके लिए आपको अपनी दिनचर्या में बदलाव लाना पड़ेगा | जैसा की

  • नियमित संतुलित व समय पर भोजन करे |
  • सुबह के समय जरुर टहलने जाये |
  • धुम्रपान का सेवन बिलकुल भी ना करे |
  • यौन सम्बंद बनाते समय महिला व पुरुष दोनों कंडोम का प्रयोग जरुर करे |
  • नियमित जूस व फलो का सेवन करे |
  • दिन में एक बार योगा जरुर करे |
  • शराब का सेवन बंद कर दे |
  • भोजन में हरी सब्जियों का अधिक प्रयोग करे |

इस रोग का बचाव कैसे करे |

हेपेटाइटिस ए जैसी समस्या से बचने के लिए आपको हेपेटाइटिस ए का टीका जरुर लगवाना चाहिये | टीकाकरण से हमारे शरीर में हेपेटाइटिस होने का खतरा बहुत कम हो जाता है | इस साथ साथ आपको खाना खाने से पहले अपने हांथो को अच्छी तरह से धो लेना चाहिये | सडक के किनारे विकने वाली किसी भी चीज का सेवन कम से कम करे | खुले पानी का सेवन बिलकुल भी ना करे | खाना बनाते समय कटी हुई सब्जियों को साफ़ जगह पर ही रखे | इन सब सावधानियों के द्वारा आप अपने शरीर को हेपेटाइटिस ए से मुक्त बना सकते है |

MANVENDRA
HEALTH BLOGGER AND DIGITAL MARKETER AT SOFT PROMOTION TECHNOLOGIES PVT LTD

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *