हार्ट अटैक क्यों और कब आता है

हार्ट अटैक क्यों और कब आता है – Heart Attack In Hindi

रोग व इलाज स्वास्थ्य सुझाव

हार्ट अटैक क्या होता है

 



हार्ट अटैक एक ऐसी बीमारी है,जिसके कारण आज कल देखा जायें तो बहुत से लोगो की मृत्यु हार्ट अटैक के कारण हो जाती है |अटैक आने से पहले लोगो को तो ये भी नही पता रहता की उन्हें हार्ट की बीमारी है |इसलिए आज हम आपको बतायेंगे की हार्ट अटैक क्या होता है –

हार्ट अटैक यानि की दिल का दौरा पड़ना क्या होता है तो हम आपको बता दे की हमारा जो हार्ट होता है वो लगातार व्यक्ती के शरीर के सभी अंगो में आक्सीजन तथा खून का प्रवाह बनाये रखता है |हमारा दिल जो होता है खून को पंप करता है अच्छी तरह से जिससे हमारी धडकने चलती रहती है |और जब हार्ट तक पहुचाने वाली धमनियों में फैट जम जाता है तो इससे खून का प्रवाह रुक जाता है जिस कारण दिल का दौरा पढ़ सकता है |

बदलते जमाने के साथ इस समय में हर एक व्यक्ती कोई ना कोई बीमारी से पीड़ित है |ये सब बीमारी लोगो में उनके गल्त खानपान के कारण आ जाती है |और गल्त खानपान से दिल की बीमारी का भी डर रहता है |और इसी कारण बड़े से बड़े युवाओं में भी दिल की बीमारी का खतरा बढने लगा है |

बहुत से लोगो को तो हार्ट अटैक के लक्षण और इससे बचने के तरीके मालूम नही होते तथा आपको इसके लक्षण और बचाव मालूम हो तो हार्ट अटैक का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है |आइये तो हम आपको बताते है हार्ट अटैक के लक्षण और कारण तथा इससे बचने के आसन से घरेलू तरीके जिन्हें आप प्रयोग करके काफी हद तक राहत पा सकते है |

हार्ट अटैक के लक्षण

हार्ट अटैक आने के शुरूआती लक्षणों में व्यक्ती के सीने में बहुत तेज दर्द उठता है। यह दर्द छाती से शुरू होकर आस -पास के हिस्सों में भी फ़ैल जाता है |अक्सर यह दर्द छाती के दोनों तरफ फैलता है ,परन्तु कुछ लोगो में यह बायीं तरफ ज्यादा फैलता है |

यह दर्द धीरे – धीरे हाथों और अँगुलियों, कंधों, गरदन, जबड़े और पीठ तक आ जाता है।
बहुत बार ये दर्द छाती के आलावा पेट के ऊपरी हिस्से से भी उठ जाता है। जबकि नाभि के नीचे और गले के ऊपर का दर्द हार्ट अटैक के लक्षणों में नहीं आता है।

बहुत से व्यक्तियों में दिल के दौरे का दर्द काफी अलग होता है |बहुत से व्यक्तियों को तो इतना तेज दर्द होता है कि जैसे उनकी जान ही निकली जा रही हो; मधुमेह एवं उच्च रक्तचाप के मरीजों में दिल के दौरे का दर्द कोई लक्षण या दर्द के बिना ही पड़ता है।

बहुत से व्यक्तियों को दर्द के साथ उनकी साँसे भी फूलने लगती है ,तथा उसके बाद उलटी भी होना और पसीना छूटने जैसे लक्षण भी दिख सकते हैं। चक्कर आना, सांस फूलना, मन अशांत, बेचैनी जोर-जोर से सांस लेना आदि भी हार्ट अटैक के लक्षण होते है |

हार्ट अटैक आने के कारण

  • मोटापा
  • बढती उम्र
  • ज्यादा शराब के सेवन करना
  • व्यायाम कम करना
  • ज्यादा समय से कोई किडनी की बीमारी होना
  • मधुमेह
  • उच्च रक्तचाप
  • हाई कोलेस्ट्रॉल
  • जेनेटिक प्रॉब्लम

हार्ट अटैक से बचने के आसन घरेलू उपाय 

लाभकारी लौकी का जूस

हार्ट के मरीजो के लिए लौकी की सब्जी या जूस का रोजाना सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है |यह आपको हार्ट अटैक के खतरे से बचाने में मदद करता है। आप लौकी को कच्चा भी खा सकते है ,दिल की बीमारियों के लिए यह काफी फायदेमंद होती है |

पीपल के पत्तो का फायदा


पीपल के पत्तो में कई स्वास्थवर्धक गुण होते है |पीपल के पेड़ से हमे 24 घंटे ऑक्सीजन मिलता है ,तथा यह दिल की बीमरी को दूर करने भी काफी फायदेमंद होता है |पीपल के 10-12 पत्तों को साफ करके पानी में उबालकर उस पानी को पीने से हार्ट ब्लॉकेज की परेशानी खत्म हो जाती है और साथ में यह हार्ट अटैक का खतरा कम करने में भी हमारी बहुत मदद करता है |

 

 अंकुरित गेहूं के लाभ

अगर आप प्रतिदिन अंकुरित गेहूं का सेवन करेंगे तो आपके शरीर को विटामिन, मिनरल्‍स, फाइबर, फोलेट आदि मिलेंगे जो आपके लिए काफी फायदेमंद है |अंकुरित गेंहू को 10 मिनट तक पानी में उबालने दे फिर जब यह अच्छी तरह उबल जायें फिर किसी कपड़े में बांध दे और इसे 1 इंच लंबा होने दें। इसके प्रतिदिन सेवन से हार्ट अटैक का खतरा काफी कम हो जाता है |

गाजर के लाभकारी गुण

प्रतिदिन नियमित रूप से गाजर का सेवन करने से आप दिल कि कई बीमारियों से बच सकते है |आप गाजर को कच्ची तथा इसका जूस भी पी सकते है |

अर्जुन की छाल भी है फायदेमंद

अर्जुल की छाल हार्ट अटैक के खतरे को दूर करने में काफी फायदेमंद मानी गयी है |अर्जुन की छाल को सूखा कर इसका पाउडर बना लें। और इस पाउडर की रोजाना चाय बनाकर पीने से आप हार्ट अटैक के खतरे से बच सकते है |

अदरक का रस पीने से फायदा

1 कप अदरक का रस ले और उसमे नींबू के रस, लहसुन और एप्पल साइडर सिरका को अच्छी तरह गर्म कर ले जब बाद में यह ठंडा हो जायें तो इसमें थोडा सा शहद मिला ले और अच्छी तरह मिक्स कर ले |इसका सेवन आपको रोजाना खाली पेट 3 चम्मच के साथ करना है ,इसके सेवन से हार्ट ब्लॉकेज की परेशानी बहुत जल्द ठीक हो जाती है |

और पढ़े – हृदय रोग से बचाव के तरीके-Heart Disease Prevention In Hindi

Tagged

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *