गोखरू का इलाज व घरेलू उपचार – Foot Corn Treatment In Hindi

0
112
Foot-Corn Treatment

आपको गोखरू का इलाज का इलाज कैसे अपने घर पैर कर सकते है आप घर मे मुलेठी से कर सकते है यह अद्भुत चिकित्‍सा और औषधीय गुणों के कारण ही फूटकॉर्न (गोखरू) के इलाज के लिए मुलेठी को बहुत फायेदेमंद माना जाता है | मुलेठी के अन्दर विटामिन सी, व एंटी एक्सीडेंट पाये जाते है | कॉर्न्‍स के उपचार के लिये आपको एक चम्‍मच मुलेठी में पर्याप्‍त मात्रा में सरसों का तेल मिलाकर गाढ़ा मिश्रण बना लें | फिर इस मिश्रण को सोने से पहले अपने पैर के गोखरू पर लगाये | इस मिश्रण को लगाकर उस पर पट्टी बांधकर रात भर के लिए छोड़ दें | अगली सुबह पट्टी को हटाकर गुनगुने पानी धोकर सूखा ले ये उपाय एक हफ्ते तक करे आपकी गोखरू की समस्या जल्दी ठीक हो जाएगी |

फूटकॉर्न पर सफ़ेद सिरका की मालिश करे

सफ़ेद सिरके में ऐसीटिक अम्ल, एंटी फंगल, व एंटी एक्सीडेंट पाये जाते है | सिरका पैर पर गोखरू को दूर करने का एक सबसे अच्छा उपाय होता है | इसका प्रयोग आपको कुछ इस प्रकार करना चाहिये | सबसे पहले एक साफ कॉटन बॉल लेकर उसे सफेद सिरका में डुबोकर फिर इसे अपने गोखरू पर लगाये | अपने गोखरू पर कॉटन के कपडे को अच्छी तरह से रखकर डक्ट टेप को उसके ऊपर लगाये | इस टेप को कम से कम चार घंटो तक लगे रहने दे | इस प्रयोग को कम से कम दो हफ्तों तक दोहराए आपकी फूटकॉर्न (गोखरू) की समस्या ठीक हो जाएगी |

टी ट्री ऑयल को गोखरू पर लगाये

टी ट्री तेल में मौजूद एंटीफंगल और एंटी-बैक्‍टीरियल गुण गोखरू के इलाज के लिए बेहतर उपाय होता है | टी ट्री ऑयल को एक साफ कॉटन कपडे को लेकर उस पर तेल की कुछ बूंदों डालकर गोखरू पर लगाये या फिर इसकी मालिश करे | मालिश के बाद उस कपडे को फूटकॉर्न पर बांध ले | और कुछ समय बाद ही खोले | कुछ दिन ऐसा करने से आपकी समस्या जल्दी ही ठीक हो जाएगी |

लहसुन व लौंग का पेस्ट गोखरू पर लगाये

लहसुन को भी एक एंटीऑक्सीडेंट माना जाता है | लहसुन में पाये जाने वाले प्रोटीन, कार्बोज, विटामिन ए, बी, सी, व सल्फ्यूरिक एसिड पाया जाता है | लहसुन हमारी सभी एंटी-बैक्टीरियल और फंगल समस्याओं को दूर करने में हमारी बहुत मदद करता है | लहसुन से फूटकॉर्न (गोखरू) का उपचार करने के लिये लहसुन की तीन कली को अच्‍छे से भूनकर फिर कुचलकर इसका पाउडर बना लें | फिर लहसुन के पाउडर के साथ लौंग के पाउडर को भी मिलाकर इसे अपने गोखरू पर लगाये | और इसे पट्टी से बांधकर पूरी रात के लिए छोड़ दें | अगली सुबह पट्टी को खोलकर अपने गोखरू को गुनगुने पानी से धो लें | इस प्रयोग से भी आपकी गोखरू की परेशानी से जल्दी आराम मिल जायेगा |

तारपीन का तेल से गोखरू की मालिश करे

तारपीन के तेल से भी हम अपनी फूटकॉर्न (गोखरू) की समस्या का उपचार कर सकते है | तारपीन का तेल भी एक प्रकार का एंटीसेप्टिक होता है | जो गोखरू की समस्या में हमारी मदद करता है | ये तेल हमारी त्‍वचा में जल्‍दी प्रवेश कर जाता है | जिससे हम अपनी इस समस्या का उपचार तेजी से कर सकते है | आपको इस तेल का प्रयोग कुछ इस प्रकार करना है | आपको एक पतले कपड़े में बर्फ लपेटकर गोखरू वाली जगह को साफ कर ले | फिर उस पर थोड़ा सा तारपीन के तेल को लगाये | और तेल लगाकर उस पर पट्टी बांध ले |

नींबू के रस करे गोखरू का उपचार

अगर आपको फूटकॉर्न (गोखरू) की समस्या शुरू हो रही है | तो आपको इस समस्या को वही खत्म करने के लिये आपको नीबू का प्रयोग करे | क्योंकि नीबू में पाये जाने वाले साइट्रिक अम्ल, सोडियम, मैगनेशियम, तांबा, फास्फोरस और क्लोरीन, विटामिन A, B, C, जैसे तत्व पाये जाते है |  नीबू फूटकॉर्न के लिए किसी भी अन्‍य घरेलू उपचार की तरह ही असर दिखता है | आपको इसके उपचार के लिये ताजा नींबू के रस को एक चम्‍मच में लेकर उसमें लौंग के पाउडर को मिलाये | फिर कुछ समय उसको इसी प्रकार रहने दे | और कुछ समय बाद इसको अपने फूटकॉर्न (गोखरू) पर लगाये | आपकी फूटकॉर्न (गोखरू) की समस्या जल्दी ही ठीक हो जाएगी |

शहद व हल्‍दी से करे गोखरू को जड़ से दूर

गोखरू की समस्या को दूर करने के लिए हल्‍दी भी बहुत अच्‍छा उपाय है | हल्‍दी में एंटी-इफ्लेमेंटरी, प्रोटीन, खनिज द्रव्य, करबोहाईड्रेट, विटमिन A, व रंजक द्रव्य जैसे प्रकृति के गुण के कारण ये हमारी बहुत मदद करती है | इसको इस प्रकार अपने फूटकॉर्न (गोखरू) पर लगाये | आपको एक चम्‍मच शहद में थोड़ी सी हल्‍दी मिलाकर इसका एक गाढ़ा पेस्‍ट बना लें | इस मिश्रण को आप रात के समय ही बनाये | फिर सोने से पहले इस मिश्रण को अपने फूटकॉर्न (गोखरू) पर लगाये और अगली सुबह साफ़ पानी से धुले | आपकी फूटकॉर्न (गोखरू) की समस्या जल्दी ही ठीक हो जाएगी |

अगर आप भी फूटकॉर्न (गोखरू) जैसी समस्या से जूझ रहे है | तो आपको अपनी इस समस्या के उपचार के लिये आपको दिए हुये उपचार का प्रयोग करना चाहिये |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.