Divya Stri Rasayan Vati In Hindi

दिव्य स्त्री रसायन वटी के महिला रोग में लाभ – Benefits Of Divya Stri Rasayan Vati In Hindi

दवाइयाँ

दिव्य स्त्री रसायन वटी पंतजलि के द्वारा निर्मित एक आयुर्वेदिक दवा है इस दवा के द्वारा महिला अपनी कई प्रकार की गुप्त समस्या का उपचार घर बैठे कर सकती है | इस दवाई के द्वारा महिला हार्मोन्स असंतुलन, कब्ज, पीरियड्स में होने वाली समस्या व पाचन से जुड़े रोग को आसानी से समाप्त करने में लाभदायक है यदि आप भी कुछ इसी प्रकार के रोगों से ग्रस्त है और जिसके कारण आपको अपने जीवन में कई प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो आज हम आपके लिये इसी प्रकार की समस्या के लिये असरदार दवा के बारे में बताने जा रहे है | तो आइये जानते है, इस दवा के बारे में विस्तार से…


स्त्री रसायन वटी में मिली जाने वाली जड़ी-बूटियां :

  • प्रवाल पिष्ठि
  • देवदारु
  • लौह भस्म
  • शरपुन्खा
  • आंवला
  • श्वेत चन्दन
  • शिलाजीत
  • पुत्रजीवक
  • मुलेठी
  • अश्वगंधा
  • शतावर
  • नागकेशर
  • शिवलिंगी
  • पारस पीपल
  • कमल
  • वंशलोचन व अर्क

जैसी जड़ी-बूटियों के द्वारा इस दवा का निर्माण किया जाता है इन सभी जड़ी-बूटियों में आपको कई प्रकार के एंटी-ऑक्सिडेंट, रोगाणुरोधी, एंटी-इंफ्लेमेटरी, के साथ साथ कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, जिंक, कैरोटीन, प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन ई और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, फोलेट, सोडियम व फाइबर जैसे तत्व पाए जाते है जो आपके शरीर को स्वस्थ बनाने का कार्य करते है आइये जानते है, इस दवा के सेवन से होने वाले लाभ

दिव्य स्त्री रसायन वटी के फायदे :

हार्मोन्स असंतुलन को ठीक करती है –

महिला के शरीर में यदि हार्मोन्स सही रूप से कार्य न करे तो इससे महिला को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है जैसे

  • बालों का कमजोर होना
  • बदहजमी या अपच होना
  • मुँहासे निकलना
  • मासिक धर्म में बदलाव का आना
  • गर्भाशय से खून का बहना

जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की समस्या से ग्रस्त है तो आपको पंतजलि द्वारा निर्मित इस दवा का सेवन करना चाहिये | यह दवाई में पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सिडेंट आपके हार्मोन्स को सुचारू रूप से कार्य करने में मदद करते है |

खून की कमी को दूर करती है यह दवा –

कई बार कई महिलाये प्रसव के बाद एनीमिया जैसी खतरनाक बीमारी की शिकार हो जाती है और कई लड़किये लम्बे समय तक डाइटिंग की वजह से भी इस रोग से ग्रस्त हो जाती है | एनीमिया जैसी बीमारी का अगर सही समय पर इलाज न कराया जाये तो महिला को कई प्रकार की दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है यदि आप भी कुछ इसी प्रकार के रोग से ग्रस्त है, तो आपको दिव्य स्त्री रसायन वटी का सेवन करना चाहिये | इस दवाई में पाए जाने वाले विटामिन्स व तत्व आपके शरीर में रक्त का निर्माण करते है |

पीरियड्स में होने वाली परेशानी को दूर करती है –

पीरियड्स का होना एक आम बात है, लेकिन अगर उन दिनों महिलाये अपनी सेहत व शरीर का सही रूप से ख्याल न रखे तो लड़कियों को माहवारी के समय कई प्रकार की दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है | यदि आपको भी पीरियड्स के समय..

  • पेट दर्द
  • रक्त का अधिक निकलना
  • शरीर में सुजन का आना
  • गुप्त अंग से बदबू आना

जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है यदि आप अपने उन दिनों में इस प्रकार की दिक्कत का सामना करती है | तो आप दिव्य स्त्री रसायन वटी के द्वारा अपनी इन सभी परेशानियों का उपचार घर बैठे कर सकती है यह दवाई आपके माहवारी के समय होने वाली दिक्कतों को दूर करके आपके शरीर को स्वस्थ बनाती है |

बांझपन की समस्या को खत्म करती है यह दवा

बांझपन यानि प्रजनन क्षमता में कमी जैसे रोग से हर महिला व पुरुष दूर रहना चाहते है लेकिन कई बार गलत आदतों के कारण व इस बीमारी के शिकार हो जाते है अधिक धुम्रपान करना अधिक यौनवर्धक दवा का सेवन करने से व अधिक गर्भनिरोधक दवाई के सेवन से भी आप बांझपन जैसी समस्या के शिकार हो सकते है यदि आपको भी गर्भधारण करने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है तो आप दिव्य स्त्री रसायन वती के द्वारा अपनी इस परेशानी को जड़ से खत्म कर सकते है इस दवा महिला के शरीर में शुक्राणुओं की क्षमता को बढ़ाने का काम करती है |

पाचन से जुड़े रोग को ख़त्म करती है –

गर्भवती महिला व प्रसव के बाद महिलायों को पाचन से जुडी समस्या का सामना करना पड़ता है पाचन से जुडी समस्या अधिकतर गर्भवती महिलायों में देखी जाती है क्योंकि गर्भावस्था के समय महिला के शरीर की मांसपेशियों व हार्मोन्स में लगतार बदलाव आता रहता है | जिसके कारण महिला को पाचन से जुडी समस्या होने लगती है | यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की दिक्कत का सामना कर रही है | तो आपको दिव्य स्त्री रसायन वटी का सेवन करना चाहिए | यह दवा गर्भावस्था व प्रसव के बाद हो रहे बदलाव को नियंत्रित करके पाचन से जुडी समस्या पूरी तरह ख़त्म कर देती है |

इस दवा को सेवन करने का तरीका –

इस दवा का सेवन आपको बहुत सावधानी से करना चाहिये आपको नियमित सुबह व शाम इस दवा का सेवन भोजन के दूध से करना चाहिए | शुगर रोगी व प्रसव के तीन महीने पहले इस दवा का सेवन बिलकुल न करे |

इस दवा के शरीर पर होने वाले नुकसान –

अभी तक इस दवा के द्वारा शरीर पर किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नही देखा गया है यदि इस दवाई का सेवन अधिक मात्रा में किया जाये तो आपको इससे दस्त व चक्कर जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है इसीलिए जब भी इस दवा का सेवन करे तो नियमित मात्रा में ही करे | यदि आप इस दवा से जुड़े किसी भी सवाल को पूछना चाहते है तो हमारे कमेन्ट बॉक्स में हमें जरुर बताये |

Tagged
MANVENDRA
HEALTH BLOGGER AND DIGITAL MARKETER AT SOFT PROMOTION TECHNOLOGIES PVT LTD

1 thought on “दिव्य स्त्री रसायन वटी के महिला रोग में लाभ – Benefits Of Divya Stri Rasayan Vati In Hindi

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *