मरीज़ का बीमारी में या सामान्य सर्जरी के बाद खानपान

Diet Plan For Surgery And Disease In Hindi

यदि आप महिला व पुरुष है, और आप बीमार है या फिर अपने कोई सामान्य सर्जरी करवाई है | और आप किसी दुविधा में है | कि आप अपने खानपान में क्या खाये और क्या न खाये | तो यह लेख पूरी तरह आपके लिए ही है | क्युकि यदि रोगी अपनी परेशानी में सही आहार का सेवन न करे तो इससे उस रोगी को और भी कई प्रकार की बीमारी व अन्य समस्या का सामना करना पड़ सकता है | तो आइये दोस्तों जानते है, रोग व सर्जरी के बाद किन भोज्य प्रदार्थों का सेवन करे जिससे शरीर को जल्दी स्वस्थ बनाने में मदद मिल सके |

सामान्य सर्जरी के बाद आहार

सामान्य सर्जरी के बाद आपको संतुलित भोज्य प्रदार्थ का सेवन करना चाहिये | वैसे तो कई भोज्य प्रदार्थ डॉक्टर के द्वारा बताये जाते है | जिनका सेवन करने से आप अपनी सर्जरी से जल्दी उबरने लगते है | तो आइये आपको बताते है, सामान्य सर्जरी के बाद किस प्रकार के भोज्य प्रदार्थ का करना चाहिये सेवन

बच्चा पैदा होने के बाद क्या खाना चाहिए

एक महिला को खानपान का जितना ध्यान गर्भावस्था में रखना चाहिये उतना ही ध्यान प्रसव के बाद रखना चाहिये | क्युकि आपका नवजात शिशु भी अपने आहार के लिये माँ पर ही निर्भर करता है | और माँ का दूध नवजात शिशु के लिये सर्वोत्तम आहार होता है | यदि महिला डिलीवरी के बाद सही भोज्य पदार्थ का सेवन न करे तो महिला के शरीर में निम्नलिखित कमी होती है :

  • खून की कमी एनीमिया |
  • स्तनों में दूध का न बनाना |
  • शरीर दर्द |
  • पेट दर्द |
  • शरीर में कमजोरी |

जैसी अन्य परेशानी का सामना करना पड़ता है | इसीलिए माँ को प्रसव के बाद इन भोज्य पदार्थ का सेवन करना चाहिये |

सोंठ युक्त लडू का सेवन करे

प्रसव के बाद सोंठ के लडू का सेवन करने से महिला को फाइबर, विटामिन B6 और विटामिन E, आयरन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, सेलेनियम और मैंगनीज जैसे तत्व महिला को स्वस्थ बनाने में बहुत मदद करते है | सोंठ के लडू को देसी घी और ड्राई फ्रूट के साथ मिलाकर ही बनाये |

साबुत अनाज का सेवन करे

एक जननी के लिये साबुत अनाज बहुत ही लाभकारी आहार होता है | साबुत अनाज में  फाइबर,  विटामिन K और एंटीऑक्सीडेंट पाये जाते है | इसमें पाया जाने वाला फाइबर माँ के शरीर में प्री बायोटिक का काम करता है | जो आंतों में फायदेमंद बैक्टीरिया को बढ़ाने का कार्य करता है | जिससे एक जननी के पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मदद मिलती है |

दालचीनी का सेवन करे

दालचीनी में एंटी-ऑक्सिडेंट, पॉलीफेनोल और मैंगनीज, आयरन और फाइबर जैसे तत्व विद्यमान होते है | जो प्रसव के बाद महिला के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता है | महिला को दूध के साथ दालचीनी का सेवन करना चाहिये |

रोगी की सर्जरी के बाद खानपान

सर्जरी के बाद यदि व्यक्ति सही भोज्य पदार्थ  का सेवन न करे तो इसके कारण व्यक्ति को कई प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ता है |

  • हार्ट सर्जरी |
  • वेट लास सर्जरी |
  • कार्डिएक सर्जरी |
  • पथरी की सर्जरी |

व अन्य सर्जरी के बाद आपको डॉक्टर के द्वारा संतुलित भोज्य पदार्थ के सेवन की सलाह दी जाती है | जिससे व्यक्ति की सर्जरी पर किसी भी प्रकार कोई असर न पड़े | सर्जरी के बाद आपको को अधिकतर तरल भोज्य पदार्थ का सेवन करना चाहिये | जैसे  कम वसा वाले भोज्य पदार्थ,  चिकन शोरबा , अनाज सूप, फलों के जूस ( अधिकतर आनार व संतरे जूस ) सब्जी का सूप व अंडे का सफ़ेद भाग का ऑमलेट का सेवन करना चाहिये |

सर्जरी के बाद व्यक्ति को भोजन कई चरणों में करना चाहिये | जिससे उसके द्वारा किया हुआ भोजन सही रूप से पच सके और व्यक्ति को पूर्ण उर्जा मिल सके | इस प्रकार के भोज्य पदार्थ से व्यक्ति जल्दी अपनी समस्या से उभर कर स्वस्थ होने लगता है |

बीमारी में खानपान

यदि आप बीमार है और आपको दवा का सेवन करने से तकलीफ या फिर परेशानी का सामना करना पड़ता है | तो आप संतुलित भोज्य पदार्थ के द्वारा भी अपनी बीमारी को खत्म करके अपने शरीर को स्वस्थ बना सकते है | बीमारी में आपको हल्का भोजन करना चाहिये | जिसे आपका पाचन तन्त्र आसानी से पचा सके तो आइये जानते है | हलके भोजन के बारे में |

दलिया का सेवन करे |

दलिया मिड्ल ईस्ट व भारत में एक संतुलित व्यंजन के रूप में उपयोग किया जाता है | जिससे शरीर को उर्जा के साथ साथ बीमारी से लड़ने की ताकत मिलती है | दलिया में लोह, मैग्नीशियम, पोटेशियम, जस्ता, नियासिन, तांबे, फास्फोरस, मैंगनीज, फाइबर और आहार प्रोटीन जैसे तत्व विद्यमान होते है | जो शरीर को स्वस्थ बनाने में बहुत ही मदद करते है | आपको दलिया को बनाते समय इसमें मुंग दाल व देशी घी को मिलाकर ही सेवन में लाना चाहिये |

उबला हुआ भोजन करे

सब्जियों को उबाल कर पकाने से सब्जियों में मोजूद गुणकारी तत्व शरीर की इम्‍यूनिटी व  स्वस्थ रखने में मदद करते है | यदि आप बीमार है तो आपको अधिक से अधिक उबली हुई सब्जियों का सेवन ही करना चाहिये |  आपको अपनी बीमारी में अधिकतर  मेथी, पालक,  गाजर, तोरी और ब्रोकोली का ही सेवन करना चाहिये | जिससे आपको शरीर जल्दी स्वस्थ बन सके | उबला हुआ भोजन आपकी कई बीमारी को जल्दी समाप्त कर देता है |

फलों के जूस का सेवन करे

फल का सेवन करने से शरीर में मोजूद गंदगी को जड़ से खत्म करने बहुत मदद मिलती है | फलों के सेवन से आपको मैग्नीशियम, पोटेशियम, जस्ता, नियासिन, तांबे, फास्फोरस, मैंगनीज व एंटीऑक्सीडेंट जैसे तत्व आपके शरीर को स्वस्थ बनाते है | आपको अपने बीमारी में आनार, संतरा, आम, पपीता व अनानास के जूस का सेवन करना चाहिये | इसके साथ साथ आपको जूस में सेंधा नमक मिलाकर ही जूस का सेवन करे | जिससे आपकी बीमारी जल्दी ही दूर हो जायेगी |