औषधि चिरायता

औषधि चिरायता के स्वास्थ्स से जुड़े लाभकारी फायदे – Chirayta Benefits In Hindi

जड़ी बूटी

चिरायता के फायदे जानना बहुत ही जरूरी है क्योकि चिरायता के स्वास्थ से जुड़े कई लाभकारी फायदे होते है | चिरायता जो एक औषधि पौधा है इसको किराततिक्त और स्वीट्रिया चिरेटा के नाम से भी जाना जाता है | आयुर्वेद में चिरायता के पुरे पौधे को औषधि के रूप में प्रयोग करने के लाभ बताये गए है | चिरायता कफ, पित्त दोष, बुखार, कब्ज, पेट से जुड़े रोग, भूख की कमी, आंतो में समस्या, त्वचा से जुड़े रोग, और कैंसर जैसी  गंभीर बीमारियों को भी ठीक करता है |


चिरायता की तासीर वैसे तो ठंडी होती है जिससे यह पाचन को सुधारकर पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है | चिरायता में कई पोषक तत्व और मिनरल्स अन्तो-ओक्सिडेंट, एल्कालाइड, ग्लाइकोसाइड्स – एक्सथोन, पोल्मिटीक एसिड, ओलेइक एसिड, चिरातानिन आदी भरपूर मात्रा में पाए जाते है | इस सबके साथ चिरायता में और भी कई शक्तिशाली यौगिक अच्छी मात्रा में पाए जाते है जिससे यह स्वस्थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है |

चिरायता से जुड़े लाभकारी फायदे

वैसे तो चिरायता में पाए जाने वाले गुणों के कारण यह बहुत ही लाभकारी होता है | तो आइये जानते है चिरायता के स्वास्थ से जुड़े लाभ –

जलने से हुए घाव में चिरायता के फायदे

चिरायता की तासीर ठंडी होती है और इसमें घाव भरने बाले तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते है | जिससे चिरायता के रस को गुलाबजल में मिलाकर जलने से हुए घाव पर लेप बनकर लगाने से घाव जड़ी भर जाता है |

आँखों की बिमारी में चिरायता के फायदे

चिरायता में आँखों के लिए फायदेमंद तत्व अच्छी मात्रा में पाए जाते है जिससे चिरायता के रस को पानी में मिलाकर आँखों पर लेप करने से आँखों की रौशनी तेज़ हो जाती है और आँखों से जुडी समस्यायें जैसे आँखों में जलन आदि में बहुत जल्द आराम मिलता है |

बुखार में चिरायता के फायदे

चिरायता की तासीर ठंडी होती है जिससे ये शरीर की गर्मी को शांत करने में फायदेमंद होता है | बुखार की समस्या होने पर 4 चमच्च चिरायता के चूर्ण को एक गिलास पानी में घोलकर रात को रख दे और सुबह सुबह इसे छानकर 3 – 3 चमच्च दिन में कई बार पीते रहे जिससे जल्द ही बुखार में आराम मिलता है |

उल्टी में चिरायता के फायदे

चिरायता में बहुत से पोषक तत्व पाए जाते है जो गर्भवती महिलाओ के लिए लाभकारी होते है | चिरायता चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर सुबह शाम एक चमच्च चाटने से उलटी की समस्या खत्म हो जाती है | बार बार उल्टी होने पर गभवती महिलाए भी इसका सेवन कर सकती है |

त्वचा के रोगों में चिरायता के फायदे

चिरायता में पाए जाने वाले औषधीय गुण त्वचा के रोगों को दूर करने में लाभकारी होता है | चिरायता के रस को खुजली मुहासे फुंसी और फोड़ो पर लगाने से जल्दी फायदा मिलता है | रात में चिरायता के 4 पत्ते एक गिलास पानी में डालकर रख दे और सुबह उठने पर खाली पेट इस पानी को पी ले जिससे खून साफ़ हो जाता है | खून साफ़ रहने से त्वचा से जुडी समस्याए दूर रहती है |

पेट में कीड़े होने पर चिरायता के फायदे

चिरायता में लाभकारी तत्व बहुत ही अच्छी मात्रा में पाए जाते है जो पेट के लिए लाभकारी होते है | चिरायता को तुलसी के रस और नीम की छाल या नीम के तेल के साथ मिलाकर रात के समय सोने से पहले सेवन करने से पेट के कीड़े मर जाते है और पेट की समस्याए दूर हो जाती है |

स्तनों में दूध की वृधि में चिरायता के फायदे

चिरायता को शुंठी, देवदारु की लकड़ी, पाठा का पंचांग, मुस्ताक की जड़, मुरवा, सारिवा की जड़, गुडूचीतना और कटुकी’प्रकंद को बराबर मात्रा में मिलाकर अच्छे से काढ़ा बना ले और इस काढ़े को 20 मिली लीटर की मात्रा में दिन में लगभग पांच से सात बार पीने से जल्द ही आराम मिल जाता है |

पेट के दर्द में चिरायता के फायदे

चिरायता की तासीर ठंडी होती है जिसकी वजह से यह शरीर में पेट की गर्मी को दूर करने में फायदेमंद होता है | पेट दर्द की समस्या होने पर चिरायता के चूर्ण को एरंड की जड़ के साथ मिलाकर अच्छे से काढा बना ले | इस काढ़े को सुबह शाम पीने से जल्द ही पेट दर्द की समस्या से आराम मिल जाता है |

खून की कमी में चिरायता के फायदे

चिरायता का स्वाद कडबा होता है जिससे इसमें आयरन बहुत ही अच्छी मात्रा में पाया जाता है जिससे यह लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को बढाता है | अगर आपके शरीर में खून की कमी है तो चिरायता का सेवन करना प्रारम्भ कर दे जल्द ही समस्या ख़त्म हो जाएगी |

 पीरियड्स के समय में चिरायता के फायदे

चिरायता में लाल रक्त कोशिकाओ को बढाने बाले गुण बहुत अच्छी मात्रा में पाए जाते है | जिससे यह महिलाओं में मासिक धर्म यानी की पीरियड्स के समय होने बाले रक्त स्त्राव की समस्या को कम करने में मदद करता है | नाक से खून बहने पर भी चिरायता फायदेमंद होता है |

कैंसर में चिरायता के फायदे

चिरायता में एंटी-ओक्सिडेंट बहुत अच्छी मात्रा में पाए जाते है जिसकी वजह से यह कैंसर से लड़ने शरीर को शक्ति प्रदान करता है | यह पहले से फैले हुए कैंसर के प्रभाव को खत्म करता है |

और पढ़े – पतंजलि च्यवनप्राश के चमत्कारी फायदे – Benefits of Patanjali Chyawanprash In Hindi

MANVENDRA
HEALTH BLOGGER AND DIGITAL MARKETER AT SOFT PROMOTION TECHNOLOGIES PVT LTD

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *