Home जड़ी बूटी औषधि चिरायता के स्वास्थ्स से जुड़े लाभकारी फायदे – Chirayta Benefits In...

औषधि चिरायता के स्वास्थ्स से जुड़े लाभकारी फायदे – Chirayta Benefits In Hindi

औषधि चिरायता

आयुर्वेदिक औषधि चिरायता का पौधा जिसे किराततिक्त और स्वीट्रिया चिरेटा के नाम से भी जाना जाता है | आयुर्वेद में चिरायता के पूरे पौधे को औषधि के रूप में प्रयोग करने के लाभ बताये गए है | चिरायता में कई पोषक तत्व और मिनरल्स अन्तो-ओक्सिडेंट, एल्कालाइड, ग्लाइकोसाइड्स – एक्सथोन, पोल्मिटीक एसिड, ओलेइक एसिड, चिरातानिन आदि भरपूर मात्रा में पाए जाते है | इस सबके साथ चिरायता में और भी कई शक्तिशाली यौगिक अच्छी मात्रा में पाए जाते है जिससे यह स्वस्थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है |

इसकी तासीर वैसे तो ठंडी होती है जिससे यह पाचन को सुधारकर पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है | चिरायता कफ, पित्त दोष, बुखार, कब्ज, पेट से जुड़े रोग, भूख की कमी, आंतो में समस्या, त्वचा से जुड़े रोग, और कैंसर जैसी  गंभीर बीमारियों को भी ठीक करता है | तो आइये जानते आयुर्वेदिक औषधि चिरायता के स्वास्थ से जुड़े कुछ लाभकारी फायदे –

चिरायता से जुड़े लाभकारी फायदे

वैसे तो इसमें पाए जाने वाले गुणों के कारण यह बहुत ही लाभकारी होता है | मगर कुछ बीमारी या परेशानियों में इसका प्रयोग बहुत लाभकारी माना जाता है | वो बीमारियाँ और समस्याएं निम्न प्रकार है –

जलने से हुए घाव की दवा –

इसकी तासीर ठंडी होती है और इसमें घाव भरने वाले तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते है | जिससे चिरायता के रस को गुलाबजल में मिलाकर जलने से हुए घाव पर लेप बनकर लगाने से घाव को भरने की दवा की तरह काम करके जल्द लाभ प्रदान करता है |

आँखों की बिमारी में फायदेमंद –

इसमें आँखों के लिए फायदेमंद तत्व अच्छी मात्रा में पाए जाते है जिससे चिरायता के रस को पानी में मिलाकर आँखों पर लेप करने से आँखों की रोशनी तेज़ हो जाती है और आँखों से जुडी समस्यायें जैसे आँखों में जलन आदि में बहुत जल्द आराम मिलता है |

बुखार की दवा –

चिरायता की तासीर ठंडी होती है जिससे ये शरीर की गर्मी को शांत करने में फायदेमंद होता है | बुखार की समस्या होने पर 4 चमच्च आयुर्वेदिक दवा चिरायता के चूर्ण को एक गिलास पानी में घोलकर रात को रख दे और सुबह सुबह इसे छानकर 3 – 3 चमच्च दिन में कई बार पीते रहे जिससे जल्द ही बुखार में आराम मिलता है |

उल्टी की दवाई –

चिरायता में बहुत से पोषक तत्व पाए जाते है जो गर्भवती महिलाओ के लिए लाभकारी होते है | चिरायता चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर सुबह शाम एक चमच्च चाटने से उलटी की समस्या खत्म हो जाती है | बार बार उल्टी होने पर गर्भवती महिलाए भी इसका सेवन कर सकती है |

चिरायता होता है त्वचा के रोगों में लाभकारी –

चिरायता में पाए जाने वाले औषधीय गुण त्वचा के रोगों को दूर करने में लाभकारी होते है | चिरायता के रस को त्वचा में खुजली, चेहरे पर मुहांसे और फुंसी फोड़ो पर लगाने से जल्दी फायदा मिलता है | रात में चिरायता के 4 पत्ते एक गिलास पानी में डालकर रख दे और सुबह उठने पर खाली पेट इस पानी को पी ले जिससे खून साफ़ हो जाता है | खून साफ़ रहने से त्वचा से जुडी समस्याए दूर रहती है |

पेट में कीड़े होने पर लाभकारी –

इसमें लाभकारी तत्व बहुत ही अच्छी मात्रा में पाए जाते है जो पेट के लिए लाभकारी होते है | चिरायता को तुलसी के रस और नीम की छाल या नीम के तेल के साथ मिलाकर रात के समय सोने से पहले सेवन करने से पेट के कीड़े मर जाते है और पेट की समस्याए दूर हो जाती है |

स्तनों में दूध बढाने में फायदेमंद –

चिरायता को शुंठी, देवदारु की लकड़ी, पाठा का पंचांग, मुस्ताक की जड़, मुरवा, सारिवा की जड़, गुडूचीतना और कटुकी’प्रकंद को बराबर मात्रा में मिलाकर अच्छे से काढ़ा बना ले और इस काढ़े को 20 मिली लीटर की मात्रा में दिन में लगभग पांच से सात बार पीने से जल्द ही आराम मिल जाता है |

पेट दर्द की दवा –

इसकी तासीर ठंडी होती है जिसकी वजह से यह शरीर में पेट की गर्मी को दूर करने में फायदेमंद होता है | पेट दर्द की समस्या होने पर चिरायता के चूर्ण को एरंड की जड़ के साथ मिलाकर अच्छे से काढा बना ले | इस काढ़े को सुबह शाम पीने से यह पेट दर्द की दवा की तरह काम करता है और पेट दर्द की समस्या से आराम मिल जाता है |

खून की कमी में लाभकारी –

इसका  का स्वाद कडबा होता है जिससे इसमें आयरन बहुत ही अच्छी मात्रा में पाया जाता है जिससे यह लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को बढाता है | अगर आपके शरीर में खून की कमी है तो चिरायता का सेवन करना प्रारम्भ कर दे जल्द ही समस्या ख़त्म हो जाएगी |

चिरायता होता है पीरियड्स में फायदेमंद –

इसमें लाल रक्त कोशिकाओ को बढाने वाले गुण बहुत अच्छी मात्रा में पाए जाते है | जिससे यह महिलाओं में मासिक धर्म यानी की पीरियड्स के समय होने वाले रक्त स्त्राव की समस्या को कम करने में मदद करता है | नाक से खून बहने पर भी चिरायता का सेवन फायदेमंद होता है |

कैंसर में चिरायता के फायदे

चिरायता में एंटी-ओक्सिडेंट बहुत अच्छी मात्रा में पाए जाते है जिसकी वजह से यह कैंसर से लड़ने के लिए शरीर को शक्ति प्रदान करता है | यह पहले से फैले हुए कैंसर के प्रभाव को खत्म करता है |