कैल्शियम की कमी को कैसे दूर किया जाये – Calcium Deficiency In Hindi

0
141
कैल्शियम की कमी को कैसे दूर किया जाये

कैल्शियम की कमी से शरीर की हड्डिया कमजोर हो जाती है | कैल्शियम शरीर को मजबूत तथा स्वस्थ बनाये रखने के लिए बहुत महत्वपूर्ण खनिज पदार्थ है | कैल्शियम हड्डियों तथा दांतों के विकास के लिए बहुत आवश्यक होता है | अगर किसी व्यक्ति के शरीर में कैल्शियम की कमी आ जाती है तो उसे अनेक प्रकार की बीमारियाँ अपनी चपेट में ले लेती है | कैल्शियम की कमी को हायपोकैल्शिमिया भी कहते है |

कैल्शियम की शरीर में उपयोगिता

कैल्शियम व्यक्ति के शरीर की माशपेशियों और तंत्रिका तन्त्र की किर्याओ को नियंत्रित करने में मदद करता है तथा साथ में खून के पी अच लेवल को भी नियंत्रित करता है | व्यक्ति के शरीर में अन्य खनिजो के मुकाबले कैल्शियम की मात्रा ज्यादा होती है | इसका लगभग 99 प्रतिशत हिस्सा व्यक्ति की हड्डियों और दांतों में मौजूद होता है | और 1 प्रतिशत हिस्सा व्यक्ति के खून , माशपेशियों तथा शरीर के अन्य हिस्सों में मौजूद होता है | आज इस लेख के द्वारा में आपको बताऊंगा की कैसे कैल्शियम की कमी को पूरा किया जाये तथा इसके कारण व लक्षण |

कैल्शियम की कमी के कारण

कैल्शियम की कमी का कारण आप जानना चाहते है तो आपको उसका उत्तर आपके आहार में मिलेगा |

  • आहार में कैल्शियम युक्त भोजन नही होता है तो वह कम नींद का शिकार हो जाता है |
  • अगर आप सूरज की किरणों से ज्यादा दिनों तक दूर रहेंगे तो आपके शरीर को कैल्शियम नही मिलेगा और इसके कारण आपको हड्डियाँ कमजोर हो जायंगी और
  • जो लोग शरीरिक श्रम में विश्वास नही करते है उन्हें भी कैल्शियम की कमी का सामना करना पढ़ता है | बहुत से लोग मीठा बहुत खाते है , मीठा खाने से भी कैल्शियम की कमी आ जाती है |

कैल्शियम की कमी से होने वाले लक्षण 

  • हड्डियों का कमजोर होना |
  • मासपेशियों में अकडन और दर्द होना |
  • थकावट जल्दी आ जाना |
  • कमजोर नाख़ून |
  • कमर का झुक जाना |
  • बालो का झड़ना और टूटना |
  • नींद न आना |
  • डर लगना |
  • दिमागी टेंसन रहना |

कैल्शियम के कुछ प्रमुख खाद्य स्त्रोत 

कैल्शियम के मुख्य स्त्रोत दूध , दही , पनीर और अंडा होता है | इसके आलावा फल और सब्जियों में भी अच्छी मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है | फलो में कैल्शियम जैसे – अमरूद , अनार , सीताफल , अंगूर , केला , खरबूजा , पपीता , शहतूत , लीची , सेब , नासपाती , आम और संतरे में बहुत अच्छी मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है | सब्जियों में कैल्शियम जैसे – पत्तागोभी , मूली , अरबी , ककड़ी , करेला , हरा धनिया , पुदीना , टमाटर , भिन्डी , गाजर , लहसुन , तुरई , पालक  में कैल्शियम पाया जाता है | और ये ही नही बादाम , पिस्ता , मुनक्का , खजूर आदि में भी कैल्शियम बहुत अच्छी मात्रा में पाया जाता है |

कैल्शियम के फायदे 

  • शरीर में कैल्शियम होने पर बच्चो में रिकेट्स नही होते है |
  • महिलाओं में मासिक चक्र तथा प्रसव के दौरान इसका बहुत फायदा होता है |
  • गर्भावस्था में बढ़ते शिशु के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी होता है |
  • हड्डियों और दांतों के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी होता है खासकर उन बच्चो के लिए जिनकी हड्डियाँ कमजोर होती है |
  • कैल्शियम युक्त भोजन लेने से कैंसर युक्त बीमारी का खतरा भी कम किया जा सकता है |
  • मधुमेह में भी कैल्शियम बहुत लाभकारी होता है |
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अपने आहार में कैल्शियम को जरुर शामिल करना चाहिए |

कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए सबसे अच्छे कारगार उपय 

सुबह की सूर्य की रोशनी जरुर ले

प्रतिदिन सुबह 20 से 25 मिनिट धूप के लेने से शरीर को आवश्यक विटामिन डी मिलता है | धूप लेते समय इस बात का जरुर ध्यान रहे कि आपके शरीर के ज्यादा से ज्यादा अंगो पर सूर्य की किरणें सीधी पढनी चाहिए | विटामिन डी शरीर को भोजन में से कैल्शियम सोखने में बहुत मदद करता है |

विटामिन डी से युक्त पदार्थो का सेवन करे

सूरज के जरिये विटामिन डी लेने के साथ – साथ आपको विटामिन डी ये युक्त पदार्थो का सेवन करना चाहिए | विटामिन डी से युक्त पदार्थ कुछ इस प्रकार है – मक्खन , अंडा , दूध , गेंहू , पनीर , वसायुक्त मछली आदि के सेवन करने से शरीर में विटामिन डी की मात्रा सही हो जाती है | विटामिन डी की मदद से कैल्शियम को शरीर में बनाए रखने में मदद मिलती है जो हड्डियों की मजबूती के लिए अत्यावश्यक होता है। इसके अभाव में हड्डी कमजोर होती हैं व टूट भी सकती हैं

मैग्नीशियम से युक्त पदार्थो का सेवन करे

मैग्नीशियम भी कैल्शियम के अवशोषण के लिए काफी जरूरी तत्व है | इसलिए मैग्नीशियम की कमी से भी शरीर में कैल्शियम की कमी आ जाती है | चूँकि हमारा शरीर मैग्नीशियम को स्टोर नही करता है इसलिए मैग्नीशियम युक्त पदार्थो का सेवन रोजाना जरूरी होता है |

मैग्नीशियम युक्त पदार्थ – पालक , शलगम , सरसों का साग , ब्रोकोली , एवोकेडा , खीरा , हरी सेम , कद्दू के बीज , बादाम और काजू आदि में मैग्नीशियम काफी मात्रा में पाया जाता है |

कैल्शियम के सप्लीमेंट जरुर ले

शरीर में कैल्शियम की कमी पूरा करने के लिए आप कैल्शियम की खुराक भी ले सकते है | बाज़ार में यह टेबलेट , कैप्सूल , पाउडर और सिरप के रूप में आसानी से मिल जाती है | कैल्शियम की खुराक की उचित मात्रा व्यक्ति की उम्र पर निर्भर करती है इसलिए इसे लेने से पहले अच्छे डॉक्टर से सलाह जरुर ले | आप कैल्शियम की खुराक खाना खाने के बाद या खाने से पहले ले सकते है |

नोट : कैल्शियम की खुराक की हाई डेली डोस नही लेनी चाहिए क्योकि इससे हार्ट डेमेज हो सकता है और शरीर पर अन्य दुष्प्रभाव हो सकते है |

और पढ़े – शरीर के लिए फायदेमंद प्रोटीन पाउडर – Benefits Of Protein Powder In Hindi

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.