कैसे जोड़े टूटी हुई हड्डी ? – Broken Bones Treatment In Hindi

0
131
कैसे जोड़े टूटी हुई हड्डी

हड्डी शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा होती है,  जो कई बार खेलकूद में या किसी अन्य कारण से चोट लगने के कारण टूट जाती है, जिसे हम बोन फ्रैक्‍चर भी कहते है। लेकिन कई बार कुछ लोगो की हड्डियों में लचीलापन कम हो जाता है, जिससे उनकी हड्डियां कमजोर हो जाती है । और इनमे हल्का सा भी झटका लगने से बोन टूट जाती है |जब किसी की बोन टूट जाती है तो उसे बहुत पीड़ा होती है , जैसे की उसकी जान ही निकली जा रही हो |अगर आपकी बोन टूट जाती है तो आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए और उसके बाद ही प्रकृतिक उपचार का प्रयोग करना चाहिए।

हड्डी फ्रैक्चर होने पर क्या करना चाहिए

  • अगर किसी व्यक्ति की हड्डी किसी कारण से फ्रैक्चर हो जाती है , तो आपको सब से पहले उसे सहारा देना पढ़ेगा और उसे हिलने भी नही देना है | हड्डी के हिलने पर दर्द बहुत तेज़ होता है और टुकड़े भी दूर हो सकते है।
  • इसलिए आपको फ्रैक्चर हुई हड्डी को सहारा देने के लिए किसी ठोस चीज का प्रयोग करना पढ़ेगा जैसे कोई लकड़ी या पाइप |इसके बाबजूद आपको सहारा देने के लिए कुछ नही मिलता है , तो हाथ से भी आप सहारा दे सकते है |
  • अगर किसी वयक्ती की कंधे की हड्डी टूट जाती है , तो तुरंत टूटी हुई जगह को किसी कपड़े से सहारा दे और हाथ की हड्डी टूट जाती है तो छाती से हाथ को बांध दे| इससे दर्द में थोड़ी राहत मिल जाती है |
  • अगर किसी व्यक्ति की घुटना, जांघ या फिर पैर की हड्डी टूट जाती है तो उसे किसी ठोस तकिये या लकड़ी का इस्तेमाल करना चाहिए |

हड्डी टूटने के बाद अगर बाहर दिखायी देने लगे तो उस पर धूल मिटटी पड़ने का डर रहता है ,क्योकि उस पर धूल मिटटी पढ़ गयी तो इन्फेक्शन भी हो जाता है |

हड्डी जोड़ने के आसान से घरेलू उपाय :

देसी घी

अगर आपको अपनी टूटी हुई हड्डी जोड़ना है तो इस उपाय को जरुर आजमा कर देंखे| इस उपाय में आपको 2 चम्मच देसी घी, 1 चम्मच गुड़ और 1 चम्मच हल्दी को मिलाकर 1 कप पानी में उबालना होगा | फिर इसे सही रूप से ठंडा करने के बाद पी लें । रोजाना दिन में 2 बार इसे पीने से आपकी टूटी हुई हड्डी अपनी जगह बहुत जल्द जुड़ जाएगी।

प्याज

टूटी हुई हड्डी को जोड़ने व उसके दर्द को खत्म करने के लिए प्याज काफी फायदेमंद होती है |आपको प्याज का उपयोग इस तरह करना होगा कि सबसे पहले आप 1पीसी हुई प्याज ले उसमे 1 चम्मच हल्दी मिलाकर एक साफ कपड़े में बांध लें।

इसके बाद उस कपड़े को तिल के तेल में अच्छी तरह गर्म कर ले तथा इतना भी गर्म नही करे की व्यक्ति उससे जल जायें | इस कपड़े से टूटी हुई जगह पर आराम आराम से सिकाई करें।

रोजाना दिन में 2 बार इसी तरह सिकांई करे , इससे आपका दर्द जल्द खत्म हो जायगा तथा हड्डी भी जल्द से जल्द जुड़ जायगी |

उड़द की दाल

उड़द की दाल को आप सबसे पहले धूप में अच्छी तरह सुखा ले|  जब यह सूख जायें तो इसे अच्छी तरह पीसकर इसका लेप बना ले |इस लेप को टूटी हुई जगह पे लगा ले,  फिर इस पर एक कपड़ा बांध दे | इस उपचार को नियमित रूप से करने से आपकी टूटी हुई  हड्डी जल्दी जुड़ जाएगी।

काली मिर्च

काली मिर्च के उपयोग से आप अपनी टूटी हुई हड्डी को बहुत कम समय में ही जोड़ सकते है |आपको सबसे पहले थोड़ी काली मिर्च लेनी होगी और इसके साथ काग गंगा बूटी को भी लेना होगा और फिर दोनों को मिक्स करके दिन में आपको 3-4 बार पीना होगा | इसका नियमित रूप से सेवन करने से आप अपनी टूटी हुई हड्डी जोड़ सकते है |

मुलेठी

मुलेठी का उपयोग भी आपको अपनी टूटी हुई हड्डी जोड़ने में काफी लाभकारी है | मुलेठी और खटाई का लेप बनाने के बाद इस लेप को टूटी हुई हड्डी पे लगा ले |इससे आपको बहुत जल्द  फायदा मिलेगा |

हड्डी मजबूत करने के सरल उपाय –

  • रोजाना योग या एक्सरसाइज करे ।
  • कॉफ़ी और चाय की जगह दूध पिए ।
  • हरी सब्जियां खाए।
  • विटामिन डी के लिए सूर्य की रोशनी भी ले |
  • प्याज और लहसुन का भोजन में ज्यादा प्रयोग करे |
  • डिब्बा बंद पेय पदार्थ और कोल्ड ड्रिंक्स आदि से दूर रहे ,  ये ड्रिंक हड्डियों को अंदर से खोखला कर देती है |

कैल्शियम की कमी कैसे दूर करें ?

हड्डियों के विकास और इलाज के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी होता है। अगर शरीर में कैल्शियम न बने या फिर इसकी कमी आ जायें तो इसके कारण सूजन और हड्डियों के रोग होने की आशंका बढ़ जाती है | कैल्शियम बढाने वाली चीजों का अधिक सेवन करना चाहिए जिससे की टूटी हुई हड्डी जोड़ने में आपको मदद मिले |

  • यदि आपको नॉन वेज खाना पसन्द है , तो आप मछली खाए ।
  • हरी पत्तेदार सब्जियां खानी चाहिए क्योकि इनमे कैल्शियम बहुत पाया जाता है |
  • दूध और दूध से बनी हुई चीज़ो का अधिक सेवन करना चाहिए क्योकि दूध में कैल्शियम अधिक पाया जाता है |
  • गर्भाबस्था के समय हड्डियां को मजबूत करने के लिए महिलाओं को भी कैल्शियम की ज़रूरत बहुत होती है |
  • पोषक तत्वों से भरपूर भोजन करना चाहिए क्योकि शरीर में कैल्शियम को पचाने के लिए विटामिन डी की आवश्यकता पड़ती है ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.