क्रिएटिन प्रोटीन पाउडर

प्रोटीन पाउडर के फायदे व सेवन का तरीका – Benefits Of Protein Powder In Hindi

स्वास्थ्य सुझाव

अच्छा स्वास्थ्य पाने के लिए प्रोटीन लेना बहुत जरूरी होता है | प्रोटीन से व्यक्ति की दुबली पतली मॉसपेशियाँ मजबूत बनती है , इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है , ख़राब सेल तथा टिसू को भी सही करता है | प्रोटीन पाउडर प्रोटीन का बहुत अच्छा स्त्रोत होता है | आप अपने भोजन में प्रोटीन सप्लीमेंट को शमिल करने से पहले आपको ये जानना जरूरी है की प्रोटीन पाउडर क्या होता है , कैसे बनता है , कितना सेवन करना चाहिए और कब करना चाहिए ये सब जानने के बाद ही आपको प्रोटीन पाउडर का इस्तेमाल करना आपके लिए उचित होगा |


क्यों जरुरी है प्रोटीन पाउडर ?

प्रोटीन पाउडर प्रोटीन का बहुत अच्छा स्त्रोत होता है | प्रोटीन पाउडर दूध , व्हे ,कैसियन तथा सोया से बनाया जाता है | लेकिन अभी हाल के कुछ दिनों में प्रोटीन पाउडर मटर से भी बनाया जा रहा है , खासकर उन लोगो के लिए जो शाकाहारी होते है |जब आप प्रोटीन को प्राक्रतिक खाघ स्त्रोतों से अच्छी तरह से हासिल करने में असफल होते है तब आपकी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए प्रोटीन से अच्छा कोई तरीका नही है | प्रोटीन पाउडर बहुत पोष्टिक होते है , इन्हें आसानी से पचाया भी जा सकता है |

शरीर को स्वस्थ बनाने के लिए प्रयोग करे इन पाउडर का ?

शरीर को फिट रखने के लिए शुद्ध व्हे प्रोटीन को चुनना बहुत अच्छा विकल्प है , क्योकि इस प्रोटीन में आपको आवश्यक एमिनो एसिड प्राप्त होते परन्तु इस प्रोटीन पाउडर का लोग ज्यादा इस्तेमाल नही करते है | ऊपर बताये गये कंपनीयो पर लोग ज्यादा भरोसा क तथा व्हे का अवशोषण तेज़ होता है |

इसलिए इस प्रोटिन को वर्क आउट के बाद लेने से काफी फायदा होता है इस प्रोटीन के अवशोषण को कम करने के लिए आप इसमें दूध और कार्बोहायड्रेट को मिला सकते है ये सभी व्हे प्रोटीन को एक अच्छा मल्टी फंक्शनल सप्लीमेंट बनाने में मदद करते है |

जाने क्रिएटिन प्रोटीन पाउडर के बारे में

क्रिएटिन प्रोटीन पाउडर हमारे शरीर की कई समस्या को दूर करने में हमारी मदद करता है | क्रिएटिन एक प्रकार का रसायन होता है | जो हमारी मांसपेशियों और मस्तिष्क में पाया जाता है | यह एक प्रकार का प्राकृतिक पदार्थ है | जो हमारे शरीर को स्वस्थ व मजबूत बनाने में हमारी मदद करता है |

क्रेटीन, ग्लूटामिन, कॉड लिवर ऑयल, बीसीएए, फैट बर्नर, मल्टीविटामिन, लिक्विड अमीनो, व कई प्रोटीन तत्व होने के कारण यह हमारे शरीर को मजबूत बनाता है | क्रिएटिन प्रोटीन पाउडर व्यक्ति के शरीर का वजन व हड्डियों को मजबूत बनाता है | आइये जानते है इसके सेवन से होने वाले लाभ के बारे में |

  • मांसपेशियों को मजबूत बनाता है |
  • फेफड़ों से जुडी सभी बीमारी का इलाज करता है |
  • ताकत में वृधि लाता है क्रिएटिन प्रोटीन पाउडर |
  • मांसपेशियों के विकाश में मदद करता है |
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ता है |
  • मधुमेह की समस्या को कम करता है |
  • मस्तिष्क क्षमता को बढाता है |

यदि क्रिएटिन प्रोटीन पाउडर के सेवन के बाद आप संतुलित भोजन का सेवन करे | तो आपको कभी भी इस प्रकार की कोई समस्या का सामना नही करना पड़ेगा | जो आपके शरीर के लिए काफी लाभकारी साबित होता है | लेकिन अगर इसके सेवन के बाद सही रूप से भोजन का सेवन नही करते है | तो इसके शरीर पर कई दुस्प्रिणाम देखने को मिलते है | जैसे

  • शरीर का और कमजोर हो जाना |
  • त्वचा पर दानों का निकलना |
  • आँखों का कमजोर होना |
  • शरीर का सुस्त हो जाना |

आदि की समस्या हो सकती है | इसीलिए अगर आपको भी सेवन के बाद इस प्रकार की कोई समस्या आने लगे | तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिये |

सेवन कैसे करे क्रिएटिन प्रोटीन पाउडर का

आपको इसका सेवन दूध के साथ रात को सोते समय करना चाहिये | जिससे आपको इसके अच्छे लाभ देखने को मिलेंगे | लेकिन इस पाउडर के साथ अन्य किसी दवा का सेवन नही करना चाहिये | गर्भवती महिला को इसका सेवन बिलकुल भी नही करना चाहिये |

इनलाइफ व्हेय प्रोटीन पाउडर के गुण व सेवन

इनलाइफ व्हेय प्रोटीन पाउडर के सेवन से हमारे शरीर को बहुत लाभ प्राप्त होता है | क्यूकि इसमें पाए जाने वाले तत्व ओमेगा-3 फैटी एसिड, विटामिन डी, लाइकोपीन, कोएंजाइम क्‍यू10, मल्‍टीविटामिन, प्रोवॉयोटिक्‍स, व फोलिक एसिड से युक्त होता है | जो हमारे शरीर की कई समस्या को जड़ से खत्म करता है | अगर इनलाइफ व्हेय प्रोटीन पाउडर का सेवन सही रूप से किया जाये | तो व्यक्ति को इससे

मदद मिलती है | इसीलिए कई डॉक्टर्स भी कमजोरी, मांसपेशियों व हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए इस सप्लीमेंट का सेवन करने की सलाह देते है | जो शरीर के लिए काफी लाभिकारी सिद्ध होता है |

इनलाइफ व्हेय प्रोटीन पाउडर का सेवन व हानि

इनलाइफ व्हेय प्रोटीन पाउडर का सेवन हम बहुत आसानी से कर कर सकते है | आपको इसका सेवन दूध के साथ ही करना चाहिये | इसके सेवन के बाद अपनी दिनचर्या में जिम व योगा को जरुर जोड़ ले | नही तो आप मोटापे के शिकार हो सकते है | खाली पेट इसका सेवन बिलकुल भी ना करे |

और पढ़े – ग्लूकोमा या काला मोतियाबिंद का सरल इलाज – Glucoma Kala Motiyabind Treatment In Hindi

MANVENDRA
HEALTH BLOGGER AND DIGITAL MARKETER AT SOFT PROMOTION TECHNOLOGIES PVT LTD

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *