पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के लाभ – Benefits of Patanjali Shilajit Rasayan In Hindi

आयुर्वेद दवाइयाँ

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी एक आयुर्वेदिक दवा है | जो पुरुषों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित होती है | यह पुरुषों में यौन शक्ति को बढ़ाती है | और शरीर की सभी कोशिकायों को मजबूत बनाती है | इसका नियमित सेवन करने से हमें थकावट,चिड़चिड़पन,काम में मन लगना ,शररिक कमजोरी,शरीर में दर्द,जोड़ो में दर्द,सास फूलने जैसी समस्या कभी नही होती है | इस दवा को यह रक्त और वीर्य वर्धक दवा मन जाता है | इस जडीबुटी के सेवन से इरेक्टाइल डिसफंक्शन, नपुंसकता, शीघ्रपतन, स्वप्नदोष जैसी समस्या भी हमेशा के लिए ख़त्म हो जाती है |

क्युकि इस दवा को बनाने में शिलाजीत के साथ साथ लोह भस्म, अश्वगंधा, बुंग भस्म, असगंद, गोखरू, कौच बीज, सौठ, मूसली, स्वर्ण मक्षिक भस्म, व दालचीनी जैसे तत्व हमारी सभी प्रकार के गुप्त समस्याओं का उपचार बहुत आसानी से करते है | अगर आप भी किसी प्रकार की गुप्त समस्या से परेसान है | तो हमें कमेन्ट बॉक्स में लिखकर जरुर बताये | अब आइये जानते है | पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के सेवन से होने वाले लाभ के बारे में |

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के कुछ चमत्कारी लाभ

मर्दाना शक्ति को फिर जगाये पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के द्वारा

पतंजलि रसायन वटी के सेवन से हमारे गुप्त रोग की समस्या पूरी तरह से ख़त्म हो जाती है | क्युकि इस दवा को घटक शिलाजीत के साथ बनाया जाता है | शिलाजीत को पुराने समय से ही मर्दाना कमजोरी के उपचार के लिए प्रयोग में लाया जाता रहा है | यह हमारे शरीर की सभी कोशिकायों को मजबूत बनाता है | साथ साथ ये हमारी मर्दाना कमजोरी को दूर कर हमारी पुरुषीय शक्ति को बढ़ाता है | आपको इसका सेवन रोजाना शाम को दूध के साथ ही करना चाहिए |

वीर्य में शुक्राणुओं की कमी को दूर करे पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी से

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी में मौजूद अश्वगंधा और शुद्ध शिलाजीत के गुण हमारे प्रजनन शक्ति को बहुत अच्छी तरह से बड़ा देते है | इसके नियमित सेवन से हमारे शुक्राणुओ की संख्या काफी हद तक बढ़ जाती है | डॉक्टर भी गुप्त समस्या के उपचार के लिए इस दवा की सलाह देते है | आपको अपनी गुप्त समस्या के उपचार के लिए इस दवा का सेवन केवल रात के समय दूध के साथ ही करना चाहिए |

स्वप्नदोष की समस्या भी जड़ से ख़त्म करती है

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी का सेवन स्वप्नदोष के लिए भी लाभदायक मन जाता है | स्वप्नदोष की समस्या से भारत में लगभग 60 लाख लोग ग्रस्त है | स्वप्नदोष के कारण हमारे शरीर में कमजोरी व निर्बलता हो जाती है | इस समस्या को जड़ से ख़त्म करने के लिए हमें पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी का सेवन प्रतिदिन करना चाहिए | जिससे स्वप्नदोष के कारण हुई कमजोरी को पूर्णरूप से ख़त्म किया जा सके | आपको इसका सेवन सुबह शाम दूध के साथ करना चाहिए |

इरेक्टाइल डिसफंक्शन कई समस्या को जड़ से ख़त्म करती है

पुरुषों में जननांग की अक्षमता के कारण इरेक्टाइल डिसफंक्शन होता है | इस समस्या होने की वजह केवल शराब उपभोग, थकान, तनाव और कमजोरी के कारण ही ये समस्या हमारे शरीर में जन्म लेती है | इस प्रकार की समस्या को दूर करने के लिए हमें रोजाना पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी का सेवन करना चाहिए | इसमें मोजूद सभी गुणकारी तत्व हमारे शरीर इरेक्टाइल डिसफंक्शन जैसी समस्या को जड़ से ख़त्म करते है |

पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के सेवन से होने वाले फायदे और कुछ जरुरी बातें

  • इसका नियमित सेवन से हमारे हृदय ( दिल ) को ताकत मिलती है | इसके सेवन से हृदय की धमनियों के अवरोध दूर होते हैं |
  • बार-बार उठने वाले हृदय के दर्द में भी यह तुरन्त प्रभावकारी होती है |
  • यह हमारे हृदय की कोशिकाओं को क्रियाशील बनती है | जिससे हमारे हृदय की कार्यक्षमता में बढ़ोतरी होती है |
  • पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी शरीर की इम्युनिटी को बहुत जल्दी मजबूत बनती है |
  • पतंजलि रसायन वटी के सेवन से हम अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी मजबूत बना सकते है |
  • इस नियमित सेवन से शरीर में होने वाले दर्द की समस्या भी पूर्णरूप से ख़त्म हो जाती है |
  • आपको पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी को बच्चो की पहुच से दूर रखना चाहिए | व पानी से भी इसका बचाव करे |
  • गर्भवती महिला को इस दवा का सेवन बिलकुल भी नही करना चाहिए |
  • आपको सुबह शाम केवल एक एक गोली का ही सेवन करना चाहिए | अधिक सेवन से हमारे शरीर को नुकसान भी हो सकता है |
  • जिन महिलाओं को सेक्स संबंदी समस्या हो वही महिलाये इस दवा का सेवन करे |
  • भोजन से पहले इसका सेवन बिलकुल भी न करे | और इसके सेवन के एक घंटे बाद ही आपको कुछ खाना चाहिए |

अगर आप भी ऊपर दी हुई किसी समस्या से परेसान है | तो आपको पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी का सेवन नियमानुसार करना चाहिए |

Tagged पतंजलि

1 thought on “पतंजलि शिलाजीत रसायन वटी के लाभ – Benefits of Patanjali Shilajit Rasayan In Hindi

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *