पंतजलि दिव्य मेधा वटी के फायदे – Benefits of Patanjali divy Medha Vati In Hindi

2
63
पंतजलि दिव्य मेधा वटी के रोचक फायेदे

पंतजलि दिव्य मेधा वटी एक आयुर्वेदिक औषधि है | जिसका सेवन करने के बाद हमारे शरीर को कई प्रकार रोगों मे लाभ मिलता है | यह दिमाग, नसों एवं ज्ञान इंद्रियों पर अपना असर दिखाती है | यह एक प्रकार की स्मरणशक्ति व बुद्धि वर्धक दवाई होती है | यह औषधि कई जड़ी-बूटियों से मिलाकर बनाई जाती है | जो हमारी याददाश्त के साथ साथ हमारी एकाग्रता को भी बढाती है |

इसका सेवन सभी उम्र वर्ग के व्यक्ति कर सकते है | बच्चो के लिये यह काफी लाभकारी मानी जाती है | पंतजलि दिव्य मेधा वटी हमारी याददाश्त को तो बढाती ही है | साथ साथ ये सिर दर्द, घबराहट और नींद से संबंधित रोगों का उपचार भी करती है | यह ब्राह्मी, शंखपुष्पी, उस्तेखदूस, मालकांगनी, जटामांसी, अश्वगंधा, सौंफ, गाजवाँ, प्रवाल पिष्टी, मोती पिष्टी व शंखपुष्पी सत्त जैसी जडीबुटी से मिलाकर बनाई जाती है | अब आइये जानते है | इसके सेवन से होने वाले लाभ के बारे में |

पंतजलि दिव्य मेधा वटी के लाभ व सेवन का तरीका

सिर दर्द का उपचार आसानी से करती है

आज कल के इस व्यस्त जीवन में सिर दर्द की समस्या आम होती जा रही है | अगर आप भी रोजाना के सर दर्द से परेसान है | तो आपको पंतजलि दिव्य मेधा वटी का सेवन जुरूर करना चाहिये | इसके सेवन के बाद हमारी सर दर्द की समस्या जल्दी व पूर्णरूप से ठीक हो जाती है | आपको इसका सेवन रोजन सुबह शाम करना चाहिये |

मानसिक रोग को जड़ से ख़त्म करती है

पंतजलि दिव्य मेधा वटी एक ऐसी औषधि हैं | जिसके सेवन के बाद तनाव, चिंता और अवसाद जैसी समस्याओं का उपचार कुछ ही समय में होने लगता है | इस औषधि को बनाने के लिये कई ऐसी जड़ी-बूटियां हैं | जो हमारे दिमाग को शांत व तेज बनाती हैं | और इन रोगों से मुक्ति पाने में हमारी सहायता करती है | इसके अलावा पंतजलि दिव्य मेधा वटी घबराहट, चिड़चिड़ापन और दिमाग से संबंधित सभी रोगों का उपचार बहुत जल्दी करती है | आपको इसका सेवन दूध के साथ सुबह शाम करना चाहिये |

नींद से जुड़ी सभी समस्याओं का इलाज आसानी से करती है

पंतजलि दिव्य मेधा वटी नींद से जुड़ी समस्याओं को भी दूर करती हैं | जैसे अनिद्रा व यह औषधि पुरानी सिर दर्द और माइग्रेन जैसे रोगों में भी बहुत लाभदायक साबित होती है | बीमारी या चोट लगने के बाद जिन लोगो को मस्तिष्क संबधी रोग हो जाते हैं | उनके उपचार और रोकथाम के लिए यह औषधि बहुत ही लाभदायक होती है | नींद से जुड़ी समस्यों के उपचार के लिये इसका सेवन सुबह शाम दूध के साथ करना चाहिये |

पाचन शक्ति बढाने में भी मदद करती है

पंतजलि दिव्य मेधा वटी के सेवन से हम अपने शरीर की कमजोरी को भी दूर कर सकते है | अक्सर हमारे पाचन तंत्र खरब होने के कारण हमारे शरीर को कई प्रकार की समस्यों का सामना करना पड़ता है | पाचन तंत्र ख़राब होने की वजह से ही हमारे शरीर में कमजोरी आती है | और हम बीमारियों के शिकार हो जाते है | इसीलिये हमें अपना पाचन तंत्र ठीक बनाने के लिये इसका सेवन रोजना सुबह के समय खाली पेट करना चाहिये |

आवाज़ साफ या ठीक करने में लाभकारी सिद्ध होती है

पंतजलि दिव्य मेधा वटी हमारी आवाज़ को साफ़ बनती है | यह दवा हमारे गले में स्तिथ गंदगी को मिटाकर हमारे गले को साफ़ करके हमारी आवाज़ साफ व सुन्दर बनती है | महिलायों को इसका सेवन रात को सोते समय गुनगुने पानी से करना चाहिये |

मिर्गी की समस्या को पूर्णरूप से ख़त्म करती है

पंतजलि दिव्य मेधा वटी मिर्गी जैसी समस्या को पूर्णरूप से ख़त्म करने में हमारी बहुत मदद करती है | इसका सेवन करने से हमारा दिमाग एकाग्र व शांत बनता है | जिससे हमारी मिर्गी की समस्या पूर्णरूप से समाप्त हो जाती है | आपको इसका सेवन रोजाना सुबह शाम दूध या पानी से करना चाहिये |

अगर आप भी अपने मस्तिष्क से जुडी किसी समस्या से परेसान है | तो आपको भी पंतजलि दिव्य मेधा वटी का सेवन नियमानुसार करना चाहिये | इसके सेवन से हमारे दिमाग से जुडी सभी समस्याओं का उपचार बहुत जल्दी हो जाता है |

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here