पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण के फायदे – Patanjali Ashwagandha Benefits in Hindi

पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण के चमत्कारी गुण

पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण के सेवन करने से हमारे शरीर को कई फायदे होते है जैसे शरीर की कमजोरी व कामोत्तेजना बढ़ाने और पुरुष मे नपुंसकता को कम करने में मदद करती है| इसके अलवा आप इसका उपयोग कई अन्य रोगों मे भी कर सकते है क्यूकि यह एक नेचुरल सप्लीमेंट भी है अश्वगंधा को आयुर्वेदिक चिकित्सा में प्रयोग किया जाने वाला सबसे महत्वपूर्ण पौधा मन जाता है | अश्वगंधा के द्वारा बहुत सारी आयुर्वेदिक दवाओ का निर्माण कई आयुर्वेदिक निर्माता के द्वारा किया जाता है। जिसमें पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण को सबसे अच्छी अश्वगंधा चूर्ण औषधि मानी जाती है | पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण के सेवन से हमारे शरीर की की कई समस्यों का निवारण बहुत जल्दी हो जाता है | अब आइये जानते है | इसके सेवन सी होने वाले शरीर को कुछ लाभ के बारे में |

अवसाद को ख़त्म करने में फयदेमद होता है अश्वगंधा चूर्ण –

अवसाद एक दिमाग से जुडी समस्या होती है | जिसके हो जाने पर व्यक्ति लाचार और निराश महसूस करता है | उसे हमेशा निराशा, तनाव, अशांति, अरुचि ही नज़र आती है | इस प्रकार की बीमारी को जड़ से ख़त्म करने में पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण हमारी बहुत मदद करता है | इसके सेवन से हमारे रक्त में आक्सीजन की मात्रा ठीक हो जाती है | जिससे हमारे दिमाग को भरपूर मात्रा में आक्सीजन पहुचता है | जिससे हमारी मस्तिष्क सम्बन्धी सभी समस्या ख़त्म होने लगती है |

शुगर के उपचार में सहायक साबित होता है –

शुगर जैसी बीमारी के उपचार के लिए पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण बहुत फायदेमंद होता है | अश्वगंधा चूर्ण हमारे रक्त में सुगर की मात्रा को बहुत जल्दी कम कर देता है |इस बात की पुष्टि एक शौध में भी की गयी है | इस शौध में बताया गया है | की पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण का सेवन करने से रक्त में इन्सुलिन की मात्रा ठीक होने लगती है | अगर इसका प्रतिदिन सेवन किया जाये तो हम शुगर जैसी समस्या को पूर्ण रूप से समाप्त कर सकते है |

कामोत्तेजना क्षमता को बढाता है –

जिन व्यक्तिओं को कामोत्तेजना की इच्छा का ख़त्म या फिर उसमे कमी आ जाती है | उनके लिए पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण का सेवन काफी फायदेमंद होता है | इसके सेवन से हमारे शुक्राणु भी बढ़ते है| जिससे आपकी प्रजनन क्षमता में बहुत सुधार आता है | महिला व पुरुष दोनों ही इसका सेवन कर सकते है | आपको इसका सेवन रोजाना रात को सोते समय दूध के साथ लेना चाहिए |

कैंसर के उपचार में सहायक होता है –

अगर पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण का सेवन रोजाना नियम से किया जाये | तो ये हमें कैंसर जैसी समस्या से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है | क्युकि इसके सेवन से हमारे शरीर से ट्यूमर सेल को पूर्णरूप से ख़त्म करता है | जिससे हमारे शरीर को कैंसर जैसी परेसानी का सामना नही करना पड़ता है | आपको इसका सेवन रोजाना सुबह शाम दूध के साथ करना चाहिए | जिससे आपको कैंसर जैसी समस्या से लड़ने की शक्ति प्रदान होगी और आपका शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी बढ़ोतरी होगी |

पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण से करे अपने घाव का उपचार –

अगर आप अपने शरीरी पर कोई घाव से बहुत परेसान है | तो आपको पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण का प्रयोग करना चाहिए | इसमें मोजूद एल्केलाइड, एण्टी वायोटिक व एण्टी टयूमरजैसे तत्व हमारे घाव को जल्दी भरने में हमारी बहुत मदद करते है | इसीलिए आपको इसका नियमित सेवन करते रहना चाहिए |

पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण का सेवन करते समय रखे इन जरुरी बातों का ध्यान –

  • पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण का सेवन गर्भवती महिला के लिए हानिकरक साबित होता है |
  • अश्वगंधा चूर्ण का सेवन अधिक मात्रा में नही करना चाहिए |
  • दवा के सेवन के बाद इसका सेवन बिलकुल भी न करे |
  • उच्च रक्चाप वाले व्यक्तियों को इसका सेवन नही करना चाहिए |
  • इसके अधिक सेवन नुक्सान दे सकता  है |

आपको इसका सेवन नियम से और एक दिन में केवल दो बार सुबह और शाम में करना चाहिए |

अगर आप भी ऊपर दी हुई किसी बीमारी के शिकार है | तो आपको रोजाना और नियम से इसका सेवन करना चाहिए | ये आसानी से किसी भी दुकान पर मिल जाती है |