मछली के तेल के फायदे, नुकसान व सेवन – Benefits OF Fish Oil In Hindi

मछली का सेवन करने से हमारे शरीर की कई परेशानी का हल बहुत आसानी से हो जाता है | क्यूकि इसमें ओमेगा -3 व फैटी एसिड पाया जाता है | जो हमारे शरीर को स्वस्थ बनाने में हमारी बहुत मदद करता है | अगर आप मछली के तेल के कैप्सूल का सेवन करे तो आप कभी भी किसी रोग से ग्रस्त नही होंगे | मछली के तेल के कैप्सूल का सेवन की सलाह डॉक्टर भी देते है | जिससे आप अपने शरीर को स्वस्थ व मजबूत बना सके |

ये कैप्सूल कई प्रकार की मछलियों से मिलाकर बनाये जाते है | जैसे कॉड, हलिबूट, हेरिंग, सैल्मन, माइलेट, मैकेरल, ट्यूना व ब्लूफ़िश आदि | जैसी मछलियों का तेल इन कैप्सूल में मिलाया जाता है | इन मछलियों के द्वारा कई प्रकार के सप्लीमेंट भी बनाये जाते है | जिसकी वजह से यह हमारे शरीर को स्वस्थ बनाने में हमारी बहुत मदद करते है | आज हम आपको इन्ही कैप्सूल से जुडी जानकारी देने जा रहे | की किस प्रकार आप इन कैप्सूल का सेवन करके अपने शरीर को स्वस्थ बन सकते है | तो आइये जानते है |

जाने मछली के तेल के लाभ के बारे में

वजन कम करने में मदद करता है

अगर आप मोटापे से ग्रस्त है तो आपको अपनी दिनचर्या में मछली के तेल का सेवन करना चाहिए | इस तेल के सेवन से आपके शरीर में जमा चर्बी कम होने लगती है | यह तेल हमारे शरीर में जमा वसा को कम करने में हमारी बहुत मदद करता है | जिससे हमारे शरीर को मोटापे से मुक्ति मिल जाती है | इस बात की पुष्टि दक्षिण ऑस्ट्रेलिया विश्वविद्यालय के प्रोफेसर पीटर होवे द्वारा भी की गयी है |

प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनता है

अगर हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत नही होगी | तो हमारे शरीर को कई प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ सकता है | जैसे की नयमित व्यक्ति किसी ना किसी बीमारी से ग्रस्त होता रहेगा | मछली में पाए जाने वाला ओमेगा -3 फैटी एसिड हमारे शरीर में मौजूद साइटोकिन्स और ईकोसोनोइड को ठीक करके हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाता है |

गठिया के लिए लाभकारी है

मछली हमारे शरीर के सभी अंगो को ठीक करने में हमारी बहुत मदद करती है | क्यूकि इसके सेवन से हमारी गठिया व जोड़ो से जुडी सभी समस्या का इलाज बहुत आसानी से हो जाता है | गठिया व रेनॉड जैसी समस्या का उपचार जल्दी करने के लिए इनकी दवा में भी मछली के तेल का प्रयोग किया जाता है | ऑस्टियोआर्थराइटिस जैसी समस्या को जड़ से खत्म करने के लिए भी मछली का तेल काफी फायदेमंद माना जाता है |

तनाव को भी जड़ से खत्म करता है

तनाव की समस्या से आज कल हर व्यक्ति ग्रस्त रहता है | अगर व्यक्ति नियमित मछली का सेवन करे तो उदासी, चिंता, बेचैनी, मानसिक थकान, तनाव, यौन इच्छा व अवसाद जैसी समस्या से राहत मिल जाएगी | क्यूकि मछली में पाया जाने वाला ओमेगा -3 फैटी एसिड हमारे शरीर में रक्त का संचार सुचारू रूप से बनाये रखने में हमारी मदद करते है | जिससे हमें इस प्रकार की कोई भी समस्या नही होती है | एक अध्यन में इस बात की पुष्टि भी की गयी है |

आँखों की रोशनी के लिए फायदेमंद होता है

इस बात से हम सभी परिपूर्ण वकिव है की मछली के सेवन से हमारी आँखों की रोशनी पर बहुत अच्छा असर पड़ता है | इसके सेवन से हम आँखों की रोशनी के साथ साथ ग्लूकोमा व मोतियाबिंद जैसी बीमारी का इलाज बहुत आसानी से कर सकते है | क्यूकि इसमें पाया जाना वाला ओमेगा -3 फैटी एसिड हमारी आँखों के रेटिना को स्वस्थ बनता है | जिससे हमारी आँखों में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी नही आती है |

त्वचा के लिए फायदेमंद होता है

अगर आप अपनी त्वचा से जुडी किसी भी समस्या से ग्रस्त है तो आपको मछली के तेल का सेवन करना चाहिये | इसके सेवन से आपके त्वचा खुबसूरत व मुलायम बनती है | क्यूकि फैटी एसिड हमारी सुजन व मुँहासे जैसी समस्या को खत्म करने में हमारी बहुत मदद करते है | मछली का तेल त्वचा से जुडी सभी बीमारी को भी खत्म करने में हमारी बहुत मदद करता है |

मधुमेह के उपचार में लाभकारी होता है मछली का तेल

मधुमेह इन्सुलिन की कमी से व्यक्ति के शरीर को प्रभावित करती है | अगर मधुमेह का मरीज मछली के तेल का सेवन करे | तो इससे हमारी इन्सुलिन की समस्या में सुधार आने लगता है | और धीरे धीरे मधुमेह जैसी समस्या पूर्णरूप से समाप्त हो जाती है | ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा भी इस बात की पुष्टि की गयी है |

इससे होने वाले नुकसान

मछली के तेल से वैसे किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नही होता है | लेकिन अगर दिन में कई बार इसका सेवन करा जाये तो इससे व्यक्ति के शरीर पर गलत असर पड़ सकता है | अगर आपको लवर से जुडी कोई समस्या है | तो डॉक्टर से पूछकर ही इसका सेवन करे | अगर इसके तेल का सेवन अधिक मात्रा में किया जाये तो व्यक्ति की रक्त शर्करा अनियंत्रित हो जाती है |

कैसे करे इस तेल का सेवन

मछली के तेल का सेवन आप कई प्रकार से कर सकते है | अगर आप मछली के तेल के कैप्सूल का सेवन कर रहे है | तो आपको इसका सेवन दिन में केवल दो बार या फिर एक बार ह इसका सेवन करना चाहिये | आपको रोजाना सुबह खली पेट गुनगुने पानी के साथ इसका सेवन करना चाहिये शाम को भी इसी प्रकार ही सेवन करे | पर भोजन करने के कुछ समय पहले इसका सेवन करे | गर्भवती महिला भी खुद व बच्चे को स्वस्थ बनाने के लिए इसका सेवन कर सकती है | लेकिन ध्यान रहे दिन में एक बार ही इसका सेवन करे | अधिक सेवन करने से महिला के शरीर नुकसान भी हो सकता है |

आइये जानते है | इससे जुड़े कुछ सवाल के बारे में

इस तेल का सेवन किसके साथ करना चाहिये ?

आपको मछली के तेल का सेवन गुनगुने पानी के साथ ही करना चाहिये |

मल्टीविटामिन के साथ इसका सेवन कर सकते है क्या ?

मल्टीविटामिन के साथ आपको इसका सेवन नही करना चाहिये क्यूकि अधिकतर मल्टीविटामिन में मछली के तेल का प्रयोग किया जाता है | इसीलिए आपको इसके साथ इसका सेवन बिलकुल भी नही करना चाहिये |

और पढ़े – बुलिमिया नर्वोसा की समस्या एवं समाधान – Bulimia Nervosa Treatment In Hindi