दिव्य प्रदरसुधा सिरप के लाभ व सेवन विधि – Benefits Of Divya Pradarsudha Syrup In Hindi

महिलाओं की समस्यायें

दिव्य प्रदरसुधा सिरप को भारत में पाई जाने वाली सबसे बहतरीन जड़ी-बूटियों के मिश्रण से बनाई जाती है | जो कि आपकी पीरियड्स में अधिक ब्लीडिंग, हार्मोन असंतुलन, संक्रमण व ट्यूमर जैसी समस्या में आपकी बहुत मदद व इन परेशानियों से शरीर की रक्षा करती है | यह आयुर्वेदिक दवा महिलायों में होने वाली समस्या के उपचार के लिये ही बनाई गयी है |


यदि आप भी माहवारी आने पर किसी समस्या की शिकार हो जाती है | तो आपको ध्यान पूर्वक हमारे इस लेख को पढना चाहिये | क्युकी यह लेख पूरी तरह महिलायों व लड़कियों में होने वाली समस्या के लिए ही बनाया गया है | तो आइये जानते है – आयुर्वेदिक दिव्य प्रदरसुधा सिरप के बारे में विस्तार से…

दिव्य प्रदरसुधा सिरप क्या है ?

दिव्य प्रदरसुधा सिरप एक आयुर्वेदिक दवा है जो पंतजलि के द्वारा कई जडीबुटी को मिलाकर बनाई जाती है | इस दवा में अशोक, शतावर, धातकी व पिप्पली जैसी कई गुणकारी जडीबुटीयों को मिलाया जाता है | जिसके सेवन से शरीर को कई एंटीऑक्सीडेंट, एंटीमिक्राबियल, विटामिन के, विटामिन बी 1, विटामिन ई, फोलिक एसिड व खनिज तत्व प्राप्त होते है |

जो कि आपके शरीर में होने वाले हार्मोन्स असंतुलन को बेहतर करने का कार्य करते है | यदि आप भी अपने पीरियड्स के समय बहुत परेसान रहती है | तो इस दवा के द्वारा आप अपनी परेशानी को आसानी पूर्वक दूर कर सकती है | तो आइये जानते है दिव्य प्रदरसुधा सिरप को किन किन जड़ी बूटी के द्वारा बनाया जाता है |

सिरप के घटक

  • अशोक की छाल |
  • शतावर |
  • धातकी |
  • पिप्पली |
  • लोधरा |
  • नगकेसरा |
  • गूलर |
  • धातकी |

जैसी गुणकारी जड़ी को मिलाकर पंतजलि इस दवा का निर्माण करती है | इसी वजह से यह दवा बहुत तेजी से अपना असर दिखाती है | अगर बात करे इस दवा के रिव्यु के बारे में तो बाज़ार में माहवारी के समय महिलाये सबसे अधिक इसी दवा को खरीदती है | क्योंकि इस दवा के द्वारा माहवारी ही नही अन्य समस्या में लाभ मिलता है | तो दोस्तों आइये जानते है इस दवा के द्वारा होने वाले लाभ के बारे में |

इसके फायदे

सफ़ेद-पानी की समस्या में करे सेवन

सफ़ेद-पानी यानि लिकोरिया इसको अंग्रेजी में वाइट डिस्चार्ज के नाम से जाना जाता है | यह महिलायों में होने वाला एक रोग होता है | जो अधिकतर आपको आपके पीरियड्स के बाद होने लगता है | इस परेशानी में आपके योनी के माध्यम से सफेद और चिपचिपा पदार्थ का स्त्राव होने लगता है | जो आपकी नियमित होने वाली दिनचर्या पर बहुत ही बुरा असर डालता है | यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की समस्या से परेसान है | तो आप दिव्य प्रदरसुधा दवा के द्वारा अपनी इस परेशानी से मुक्ति पा सकती है |

संक्रमण को खत्म करती है

संक्रमण का सबसे अधिक खतरा महिलायों को होता है | ऐसा नही है कि यह समस्या केवल महिलायों में ही पाई जाती है | संक्रमण किसी भी व्यक्ति व महिला को अपनी गिरफ्त में ले सकता है | महिलायों में संक्रमण अधिकतर गुप्तांग में पाया जाता है | जिसको बताने से कई महिलाये परहेज करती है | यदि आप भी किसी संक्रमण से ग्रस्त है |

जैसे की गुप्तांग में खुजली होना, जलन होना, सुजन आना, व दर्द के साथ रक्त निकलना तो आप पंतजलि की दिव्य प्रदरसुधा सिरप के साथ अपनी इस परेशानी को जड़ से खत्म कर सकती है | इस दवा में एंटीऑक्सीडेंट व एंटी बैक्टीरियल तत्व शरीर में मोजूद संक्रमण को जड़ से खत्म करने का कार्य करती है |

हार्मोन असंतुलन को ठीक बनती है

हार्मोन असंतुलन की समस्या के कारण आपको अनियमित पीरियड्स जैसी परेशानी व अधिक रक्तस्त्राव जैसी समस्या का सामना करना करना पड़ता है | हार्मोन असंतुलन के कारण आपके हांथ, पैर व छाती पर बाल निकालने लगते है | यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की परेशानी का सामना कर रही है | तो आपको पंतजलि की दिव्य प्रदरसुधा दवा का सेवन करना चाहिये | यह दवा आपके शरीर में हो रहे हार्मोन असंतुलन को बेहतर बनाकर आपके सामान्य पीरियड्स में मदद करती है |

ट्यूमर की परेशानी होने से रक्षा करती है

असामान्य कोशिकाओं के विकशित होने से शरीर को ट्यूमर जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है | आपके शरीर में अरबों कोशिकाओं होती है, जो कभी भी अपने आप विकशित होने लगती है | यह अधिकतर धूम्रपान व सूर्य की रोशनी के कारण जन्म लेता है |

यदि आपके शरीर के किसी अंग में उभार व गांठ की समस्या आ रही है | तो डॉक्टर के इलाज के साथ इस दवा का सेवन करके अपनी इस परेशानी को खत्म कर सकती है | यह दवा ट्यूमर में बनाने वाली गांठ पर ही अपना असर दिखाती है | अगर नियमित इस दवा का सेवन किया जाये तो आप इस परेशानी से मुक्त हो सकते है |

इस सिरप का सेवन तरीका

दिव्य प्रदरसुधा सिरप का सेवन आप बहुत ही आसानी से कर सकती है | इस दवा को आप पानी व बिना पानी के साथ भी अपने सेवन में प्रयोग में ला सकती है | आपको इस दवा का सेवन भोजन व नास्ते के बाद करना चाहिये |

इसके नुकसान

दिव्य प्रदरसुधा सिरप सिरप के सेवन से शरीर को किसी भी प्रकार का कोई नुकसान देखने को नही मिलता है | लेकिन आपको इस दवा का सेवन दिन दो बार ही करना चाहिये | अधिक सेवन से आपको दस्त व उल्टी जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है | यदि आप इस लेख से जुडी व अन्य किसी समस्या को हमसे पूछना चाहते है | तो हमारे कमेन्ट बॉक्स में हमे जरुर बताये |

 

Tagged
MANVENDRA
HEALTH BLOGGER AND DIGITAL MARKETER AT SOFT PROMOTION TECHNOLOGIES PVT LTD

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *