पतंजलि टूथपेस्ट के लाभ फायदे हानि व प्रयोग – Benefits Of Dant Kanti In Hindi

0
84
दन्त कांति मेडिकेटिड

पतंजलि टूथपेस्ट को बनाने के लिए कई प्रकार की जड़ी-बूटी का मिश्रण को मिलाया जाता है जिससे यह हमारे दाँतों की समस्या को जड़ से खत्म करने में हमारी मदद कर पाता है | दोस्तो पतंजलि टूथपेस्ट को बनाने के लिए अकरकरा, नीम, बबूल, तोमर, पुदीना, लवंग, छोटी पिप्पली, वज्रदंती, बकुल, विडंग, हल्दी, पीलू, आवंला व माजूफल जैसे और भी कई तत्वों को मिलाया जाता है |

जो हमारे दाँतों व मसूड़ों को मजबूती व चमक प्रदान करते है | इसी वजह से यह टूथपेस्ट भारत में सबसे अधिक बिकने वाला टूथपेस्ट बन चुका है | हम खुद पतंजलि द्वारा निर्मित टूथपेस्ट का ही प्रयोग करता हूँ , इसीलिए दोस्तो मै आपको इसके लाभ के बारे में बताने जा रहा हूँ, आइये जानते है इससे जुड़े कुछ रोचक लाभ के बारे में |

पतंजलि दन्त कान्ति के लाभ

पतंजलि दन्त कान्ति हमारे दाँतों की कई समस्या को जड़ से खत्म करने हमारी बहुत मदद करती है | इसमें मौजूदअकरकरा, नीम, बबूल, तोमर, पुदीना, लवंग, छोटी पिप्पली, नमक व आवंला जैसी गुणकारी जडीबुटी हमारे दांतों को मजबूत व स्वस्थ बनाने में अहम् भूमिका निभाते है | अगर आप नियमित इसका सेवन करते है |

तो आपको कभी भी दाँतों में पीलापन,सडन, कीड़े की परेशानी व मुहं से बदबू की समस्या पूरी तरह खत्म हो जाती है | इस टूथपेस्ट का सेवन किसी भी वर्ग का व्यक्ति व महिला कर सकती है | इस टूथपेस्ट को आप किसी भी दुकान से खरीद सकते है | दोस्तो आइये जानते है | कैसे करे इसका सेवन

पतंजलि दन्त कान्ति का सेवन हमें कुछ इस प्रकार करना चाहिये | अगर आपके मुहं से बदबू आती है | तो आपको दिन में दो बार मंजन करने के बाद गर्म पानी से कुल्ला करना चाहिये | इस प्रकार इसका सेवन करने से कुछ ही दिनों में आपकी यह समस्या पूरी खत्म हो जाती है |

दातों में पीलापन की समस्या को खत्म करने के लिए आपको इसीप्रकार इसका सेवन करना चाहिये | जिससे आपके दाँतों में जमा मैल पूरी तरह खत्म हो जाता है | और आपके दातं की चमक वापस लौट आती है | वैसे तो आपको इसका सेवन सुबह व शाम करना चाहिये | जिससे आपके दातों में किसी भी प्रकार की कोई समस्या ना आ सके |

पतंजलि दन्त कान्ति जूनियर के लाभ

पतंजलि दन्त कान्ति जूनियर भी खासकर बच्चो के लिए बनाया गया है, क्यूकि बच्चे बिना अपने शरीर का ध्यान दिए कई ऐसी चीजों का सेवन करते है | जिससे उनके दांतों पर बुरा असर पड़ता है | इसीलिए पतंजलि द्वारा इस टूथपेस्ट का निर्माण किया गया है | जिससे आप अपने बच्चे के दाँतों को स्वस्थ बन सकते है | इस टूथपेस्ट में भी बच्चो के दांत को ध्यान में रखकर ही जडीबुटी को मिलाया गया है | जिससे बच्चे के दातों को स्वस्थ बनाया जा सके |

कैसे कराये अपने बच्चे को इसका सेवन

पतंजलि दन्त कान्ति जूनियर का सेवन अपने बच्चे को सुबह शाम करवाना चाहिये | जिससे आपके बच्चे के दाँतों में दर्द व सडन की समस्या ना हो सके | हो सके तो मंजन करने के बाद अपने बच्चे को गुनगुने पानी से कुल्ला जरुर करवाये |

दन्त कांति मेडिकेटिड के फायदे

दन्त कांति मेडिकेटिड के प्रयोग से आपको अपने दांतों से से जुडी ठंडा गरम, झनझानाहट, दर्द व बदबू की समस्या को जड़ से खत्म करता है | यह टूथपेस्ट में भी कई प्रकार की गुणकारी जड़ी बूटी मिलाई जाती है | जिससे हमारे दांतों को स्वस्थ बनाने में मदद मिलती है | इस टूथपेस्ट को बनाने के लिए हल्दी, बबूल, तोमर, पुदीना, बज्रदंती व लोंग जैसी कई जडीबुटी मिलाई जाती है | जो हमारे दांतों में होने वाली झनझानाहट व दर्द की समस्या को बहुत जल्दी खत्म करने में मदद करता है |

दन्त कांति मेडिकेटिड का प्रयोग

दन्त कांति मेडिकेटिड का बहुत आसानी से प्रयोग कर सकते है | आपको रोजाना सुबह व शाम को खाना खाने के बाद इसका प्रयोग करना चाहिये, जिससे आपके दांतों में लगी समस्या को जड़ से खत्म करने में मदद मिल सके | शाम को मंजन करने के बाद आपको किसी भी चीज का सेवन नही करना चाहिये |

इसके नुकसान

पतंजलि दन्त कांति के प्रयोग के द्वारा हमारे शरीर व दांतों को किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नही होता है | इसी वजह से पतंजलि दन्त कांति भारत में सबसे अधिक बिकने वाला टूथपेस्ट है | यह टूथपेस्ट और किसी टूथपेस्ट के मुकबले बहुत अच्छा व बहतरीन माना जाता है |

और पढ़े – पतंजलि गोमूत्र के फायदे और नुकसान – Benefits Of Patanjali Godhan Ark In Hindi

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.