बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रस

बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रस के लाभ गुण व साइड इफ़ेक्ट – Benefits Of Baidyanath Ashwakanchuki Ras In Hindi

दवाइयाँ

बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रस को लिवर से जुडी समस्या के इलाज के लिए बनाया गया एक कारगर आयुर्वेदिक दवा है | इस दवाई में कई प्रकार की जड़ी-बूटी का मिश्रण मिलाया जाता है | जोकि आपके शरीर के लिए बहुत ही लाभकारी सिद्ध हो सकती  है | यह दवा लिवर के साथ साथ और भी कई समस्या को जड़ से खत्म करने में मददगार साबित होती है | यह दवा बदन दर्द, खांसी, बुखार, सिर दर्द जैसी समस्या में भी काफी लाभकारी साबित होती है | दोस्तों आइये जानते है हम बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रस दवा के बारे में विस्तार रूप  से |


बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रस के घटक

बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रस को कई प्रकार की गुणकारी जड़ी-बूटी से मिलाकर बनाया जाता है | जिसकी वजह से ही यह दवा हमारे शरीर को स्वस्थ बनाने में मददगार साबित होती है | इस दवा को जायफल, सुहागा, त्रिफला, पारा, शुद्ध गंधक, वत्सनाभ, व हरताल जैसी जड़ी बूटी को मिलाकर बनाया जाता है | जिसकी  वजह से यह लिवर को स्वस्थ बनाने में काफी मददगार होती है |

दमा की समस्या में लाभकारी है अश्वकंचुकी

दमा जैसी गंभीर समस्या में अगर इस आयुर्वेदिक दवा का सेवन किया जाये|तो आप इस बीमारी को जड़ से खत्म कर सकते है | इस दवा के सेवन से व्यक्ति के रक्त प्रवाह या संचार में काफी अच्छा सुधार आता है | इससे आप दमा व अस्थमा जैसे बीमारी की परेशानी को जड़ से खत्म किया जा सकता है

कब्ज की समस्या को खत्म करता है

आपको कब्ज के द्वारा होने वाली समस्या का सरल उपचार है अश्वकंचुकी | क्युकि इस दवा में , सुहागा व त्रिफला जैसी कई गुणकारी जडी बुटी होती है जो पेट में होने वाली कब्ज जैसी समस्या को जड़ से खत्म करने में बहुत मदद करती है | अगर आप भी कब्ज जैसी समस्या के कारण परेशान है तो आपको इस दवा का सेवन गुनगुने पानी के साथ दो बार करना चाहिये |

आपकी प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाता है

यह जायफल, सुहागा, त्रिफला, पारा व शुद्ध गंधक जैसी जडी बुटी से बनती है जो आपके शरीर के रक्त को शुद्ध बनाकर रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में मदद करती है | यदि कोई व्यक्ति नियमित किसी न किसी बीमारी की समस्या से ग्रस्त रहता है | तो यह दवा उसके लिए काफी फायदेमंद साबित होती है | क्यूकि इस दवा में कई एंटी-वक्टीरियल व संक्रमण रोधी गुण होते है | जो शरीर को स्वस्थ बनाने में बहुत मदद करते है |

सर्दी जुखाम व बुखार की समस्या को ख़त्म करता है

बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रास के सेवन से आपके शरीर में कई गुणकारी तत्वों की कमी पूरी हो जाती है | जिसकी वजह से शरीर किसी भी बीमारी व परेशानी  से ग्रस्त नही होता है | यदि आप मौसम के बदलाव के कारण आप किसी न किसी बीमारी के शिकार हो जाते थे | तो आपको बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रास दवा का सेवन जरुर करना चाहिये | यह दवा शरीर में प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने का कार्य करती है|जिससे आपका शरीर जल्दी किसी बीमारी का शिकार नही होगा|

कैसे करे इस रस का सेवन

बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रास का सेवन आप कई प्रकार से कर सकते है, यह दवा दूध व गुनगुने पानी के साथ सेवन करने से शरीर को बहुत लाभ मिलता है, जिस व्यक्ति को बुखार व लीवर रोग की समस्या को जड़ से ख़त्म करने के लिए गुनगुने पानी से सेवन करना चाहिये  |

इस देवी के साइड इफ़ेक्ट

बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रास के सेवन से शरीर को किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नही होता है | लेकिन यदि इस दवा को अधिक मात्रा में सेवन किया जाये तो शारीर को उल्टी दस्त व चक्कर जैसी परेसानी का सामना करना पद सकता है | गर्भवती महिला को इस दवा का सेवन डॉक्टर की सलाह से करना चाहिये |

और पढ़े – एचआईवी व एड्स की जाँच – HIV AIDS Test In Hindi

Tagged
MANVENDRA
HEALTH BLOGGER AND DIGITAL MARKETER AT SOFT PROMOTION TECHNOLOGIES PVT LTD

1 thought on “बैद्यनाथ अश्वकंचुकी रस के लाभ गुण व साइड इफ़ेक्ट – Benefits Of Baidyanath Ashwakanchuki Ras In Hindi

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *