बैद्यनाथ भृंगराजासव के लाभ व सेवन का तरीका

0
81
बैद्यनाथ भृंगराजासव
बैद्यनाथ भृंगराजासव

बैद्यनाथ भृंगराजासव कई जड़ी बूटियों के द्वारा बनाई जाने वाली एक गुणकारी दवा है | इस दवा के सेवन के द्वारा आपका संक्रमण सर्दी जुकाम, व खांसी जैसी समस्या को आसानी से खत्म कर सकते है | इस दवा को पूरी तरह हर्बल व प्रकर्तिक तरीकों से ही बनाया जाता है जिस कारण यह दवा आपके शरीर को तुरंत स्वस्थ व निरोग बनाने में मदद करती है|यदि आप भी रोजाना किसी न किसी वजह से बीमार, भूख न लगने की समस्या, खांसी व पाचन से जुडी समस्या से ग्रस्त हो जाते है | तो आप इस दवा के द्वारा अपनी इन सब समस्या को आसानी से खत्म कर सकते है | दोस्तों आज हम आपको इस दवा के सेवन से होने वाले लाभ व सेवन तरीके के बारे में बताने जा रहे है | तो आइये जानते है, इस दवा के बारे में विस्तार से

बैद्यनाथ भृंगराजासव के घटक व बनाने की विधि:

  • भृंगराज
  • हरितकी या हर्र
  • पिप्पली
  • गुड
  • लौंग
  • इलायची
  • तेजपत्ता
  • जयफल

जैसी गुणकारी जडीबुटीयों के मेल से बैद्यनाथ भृंगराजासव दवा का निर्माण किया जाता है | इसी कारण यह दवा आपके शरीर के लिए इतनी फायदेमंद साबित होती है | सबसे पहले इन सभी जड़ी बूटियों को अच्छी तरह से साफ़ करके सभी को थोड़ी थोड़ी मात्रा में एक बर्तन में डाल लेते हैं | फिर बर्तन में थोडा पानी डालकर अच्छी तरह से गर्म करते है | पानी के उबलते समय इसमें इलायची व गुड को पानी मात्रा अनुसार बर्तन में डालते है | और जब तक काड़ा न बन जाये तब तक गर्म करते है | फिर इस काडे को एक साफ़ कांच की बोतल में भर लेते है | और जरुरत पड़ने पर इस काडे का इस्तेमाल करे | दोस्तों आइये जानते है इस दवा के सेवन से होने वाले लाभ के बारे में…

खांसी को दूर करती है –

खांसी की समस्या आपके श्वसन तंत्र से जुडी समस्या होती है | कई बार आप सर्दी जुखाम व संक्रमण के कारण भी इस परेशानी के शिकार हो जाते है | जिसका अगर सही समय पर उपचार न कराया जाए | तो खासं जैसी समस्या को गंभीर होते समय नही लगता है | यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की समस्या से परेशान है | तो आप बैद्यनाथ द्वारा निर्मित इस दवा के सेवन से खांसी की समस्या को केवल दो दिनों में आसानी से खत्म कर सकते है | खांसी होने पर आपको इस दवा का सेवन रात में भोजन के बाद करना चाहिये | इस दवा के सेवन से बाद आपको किसी भी चीज का सेवन नही करना चाहिये |

यह आपके पाचन तंत्र को ठीक करती है –

पाचन से जुडी समस्या के कारण आप बवासीर, कब्ज, एसिडिटी, व लिवर रोग से ग्रस्त हो जाते है | कई बार पाचन तंत्र भी खराबी के कारण ह आपको भूख न लगने जैसी समस्या का समाना भी करना पड़ता है | यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की बिमारियों से ग्रस्त है | तो आप इस दवा के द्वारा अपनी समस्या का उपचार बहुत ही आसानी कर सकते है | क्योकि इस दवा में पाये जाने वाले एंटी ऑक्सीडेंट तत्व आपके लिवर में मौजूद गंदगी को आसानी से दूर करने में मदद करते है | पाचन से जुडी समस्या को दूर करने के लिए आप इस दवा का सेवन दूध के साथ भी कर सकते है |

शारीर के रक्त को शुद्ध बनाता है –

अशुद्ध रक्त के कारण आपको त्वचा से जुडी समस्या का सामना करना पड़ता है | क्योकि अशुद्ध रक्त आपके शरीर क प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर बनाने लगता है | जिसके कारण आपको फोड़ा, शरीर पर दाने, दिमागी क्षमता का कमजोर होना व प्रतिदिन बीमार होने जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है | यदि आप भी कुछ इस प्रकार की समस्या से परेशान है | तो आपको भी इस दवा का सेवन जरुर करना चाहिये | यह आपके रक्त में मौजूद गंदगी को साफ़ करने में मदद करती है | रक्त साफ़ करने के लिए आप इस दवा का सेवन दिन में दो बार भी कर सकते है |

लीवर रोग को खत्म करता है –

लीवर रोग की समस्या से आज कल कई व्यक्ति परेशान है | क्योकि बढता धुम्रपान व फास्ट फ़ूड का चलन आपके लिवर को कमजोर बनाने का कार्य करता है | धुम्रपान व गलत खानपान के कारण आपको फैटी लीवर व लीवर के फेल होने जैसी समस्या का शिकार बनाता है | यदि आप भी कुछ इसी प्रकार की समस्या से परेशान है | तो आप भी इस दवा के द्वारा अपनी इस समस्या को आसानी से खत्म कर सकते है | यह दवा आपके लिवर में मौजूद गंदगी को आसानी से दूर करने में मदद करती है |

बैद्यनाथ भृंगराजासव के उपयोग का तरीका :

इस दवा का सेवन आप बहुत ही आसानी से कर सकते है यह दवा पांच साल से अधिक बच्चे के लिए भी बहुत लाभकारी होती हैं | आपको इस दवा का सेवन दूध व गुनगुने पानी के साथ भी ले सकते है | लेकिन गर्भवती महिला व स्तनपान करवाने वाली महिला को इस दवा का सेवन डॉक्टर की सलाह से करना चाहिये | आपको इस दवा का सेवन बोतल पर लिखी मात्रा के अनुशार ही करना चाहिये |

 नुकसान :

इस दवा के सेवन के द्वारा आपको किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नही होता है | यदि आप इस दवा की अधिक मात्रा का सेवन करते है | है तो आपको आपकी समस्या में आराम नही मिलता है | हो सकता है आपको इस दवा के अधिक सेवन से शरीर पर दाने व चकते निकल सकते है | इसीलिए आपको इस दवा का सेवन केवल पैक पर दी हुई मात्रा के अनुसार ही करना चाहिये | यदि आप इस दवा से जुड़े किसी सवाल को हमारे द्वारा पूछना चाहते है | तो आप हमारे कमेन्ट बॉक्स में हमें जरुर बताये |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.