आँखों की रोशनी बढ़ाने का मंत्र

Aankhon
Aankhon

आँखे हमारे शरीर के सबसे जरुरी अंगो में से एक होती है आँखों की रोशनी में थोड़ी सी भी कमी आने पर हमे काफी समस्या का सामना करना पड़ता है आँखों की रोशनी बढ़ाने का मंत्र (Aankhon ki roshni badhane ka mantra) बहुत आसान है

आँखों की रोशनी बढ़ाने का मंत्र

आँखों की दृष्टि  व का कम होना मायोपिया ( दूर का धुंधला दिखना ) और हाइपरोपिया ( पास का धुंधला दिखना ) से भी जुड़ा हुआ है|

कुछ विशेष कारक जैसे जेनेटिक्स, न्यूट्रीएंट्स की कमी, बढती उम्र और आँखों पर अत्याधिक तनाव होने पर यह समस्या होती है |

सामान्य तौर पर आँखों की कम रोशनी का इलाज डाक्टर ही कर सकते है|

लेकिन फिर भी आप कुछ घरेलु उपायों को अपनाकर अपनी आँखों की रोशनी को बढ़ा सकते है |

आँखों का व्यायाम करे-

आँखों के व्यायाम करने से आँखों की मॉसपेशिया लचीली होती है उनमे खून का प्रभाव बढ़ता है और विज़न ठीक होने लगता है

इसे रेगुलर करने से आँखों का तनाव भी कम होता है |

सननिगं और पलमिंग –

ये भी हमारी आँखों की रोशनी के लिये काफी फायदेमंद होते है, क्योकि यह आँखों के लेंस और सिलिअरी मसल्स को लचीला और मजबूत बनता है |

  • एक्यूप्रेशर / एक्यूपंक्चर –

हमारी आँखों Aankhon चारो तरफ से कुछ हडिड्यो के जोड़ से घिरी होती है जिन्हें एक्यूप्रेशर या एक्यूपंक्चर पॉइंट्स भी कहा जाता है |

  • बादाम-

बादाम में ओमेगा-3 फैटी एसिड्स. विटामिन ई और एंटीओक्सीडेंटस पाये जाते है

जो आँखों Aankhon की रोशनी बढाने के लिये उपयोगी है यह याददाशत और ध्यान को बढाने में भी मदद करता है

  • सौंफ-

सौंफ में ऐसे न्यूट्रीएंट्स और एंटीओक्सीडेंटस पाये जाते है

जो कैताराक्ट्स के प्रोग्रेशन को स्लो करते है प्राचीन रोमवासी सौंफ को आँखों के लिये वरदान मानते थे |

  रोकथाम के उपाय

  • डिम या धीमी रोशनी में न पढ़े क्योकि इससे आँखों की मॉसपेशियो में तनाव बढ़ता है |
  • काम के दौरान हर 20 मिनिट के दौरान अपनी आँखों को थोडा आराम दे |
  • धूप में निकलने के दौरान सनग्लास का इश्तेमाल करे |
  • अच्छे से नींद पूरी करनी चाहिये क्योकि नींद पूरी न लेने से आँखों में तनाव बढ़ता है |
  • नियमित रूप से हरी सब्जियों का सेवन करे |
  • रोज पपीता का सेवन करने से आँखों की रोशनी तेज होती है |
  • सुबह- सुबह नंगे पैर ओस पड़ी घास पर चले इससे आपकी आँखे स्वस्थ हो जायेगी |
  • और पढे – (आँखों के इन्फेक्शन का घरेलु उपचार)