पंतजलि गिलोय घनवटी के लाभ व हानि – Benifits Of Patanjali Giloy Ghan Vati In Hindi

आयुर्वेद

पंतजलि गिलोय घनवटी हमारे शरीर की कई समस्या का उपचार बहुत आसानी से कर देती है | गिलोय का पौधा बेल के आकर का होता है | पंतजलि गिलोय घनवटी को बनाने के लिए गिलोय अलवा कोई अन्य जड़ी बूटी को नही मिलाया जाता है | पंतजलि गिलोय घनवटी, गिलोय के तने से के जूस से मिलाकर बनाई जाती है | यह एक आयुर्वेदिक दवा है जो पंतजलि के द्वारा निर्मित की जाती है| इस दवा के द्वारा शरीर की कई समस्या का उपचार कराया जाता है | इसके सेवन से बैक्टीरिया और वायरस से संबंधित सभी रोग व  समस्या जड़ से ख़त्म हो जाती है | अब आइये जानते है पंतजलि गिलोय घनवटी के फायदे के बारे में |

पंतजलि गिलोय घनवटी के लाभ

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाता है पंतजलि गिलोय घनवटी

यदि आप प्रतिदिन किसी ना किसी समस्या के शिकार रहते है | या फिर आप कमजोरी के शिकार है | तो यह समस्या केवल रोग प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने की वजह से आती है | अगर रोजाना इसका सेवन किया जाये | तो व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता में सुधार आने लगता है | क्यूकि पंतजलि गिलोय घनवटी के सेवन से हमारे शरीर का रक्त संचार सुधरने लगता है | जिससे व्यक्ति का शरीर स्वस्थ बनने लगता है |

रक्त साफ करने में फायदेमंद है पंतजलि गिलोय घनवटी

पंतजलि गिलोय घनवटी के सेवन से हमारे शरीर को काफी आराम मिलता है | यह हमारे शरीर के रक्त को शुद्ध बनता है | क्यूकि पंतजलि गिलोय घनवटी में पाए जाने वाले एंटी-ओक्सिडेंट और एंटी-बैक्टीरियल गुण हमारे शरीर के रक्त को साफ बनाते है | जिससे हमारे शरीर को कैंसर जैसी समस्या से छुटकारा मिल जाता है |

पिम्पल्स व चेहरे के दाग धब्बे को मिटाता है पंतजलि गिलोय घनवटी

यदि पंतजलि गिलोय घनवटी का सेवन प्रतिदिन किया जाये | तो इससे हमारे शरीर के साथ साथ हमारी त्वचा पर भी काफी असर पड़ता है | पंतजलि गिलोय घनवटी में पाए जाने वाले एंटी-बैक्टीरियल गुण हमारी त्वचा को मुलायम व सुंदर बनाने में हमारी बहुत मदद करता है |

यह यकृत की रक्षा करती पंतजलि गिलोय घनवटी

यकृत हमारे शरीर के महत्वपूर्ण अंग है | जिसका स्वस्थ रहना हमारे शरीर के लिए बहुत जरुरी है | इसिबात को ध्यान में रखकर पंतजलि ने पंतजलि गिलोय घनवटी का निर्माण किया है | जिससे हमारे यकृत को स्वास्थ बनाया जा सके | गिलोय घनवटी के एंटी-ओक्सिडेंट और एंटी-बैक्टीरियल गुण हमारे शरीर के साथ साथ हमारे यकृत को भी स्वस्थ बनाते है | जिससे हमारा शरीर स्वस्थ बन सके |

  • मधमेह को कम करने में मदद करती है |
  • शरीर की इम्युनिटी को बढाती है |
  • बुखार की समस्या में लीवर की रक्षा करती है |
  • शरीर की सुजन कम करने में लाभकारी होती है |
  • पुराने बुखार की समस्या को जड़ से ख़त्म करती है |
  • स्वाइन फ्लू जैसी समस्या में लाभकारी है |
  • शारीरिक कमजोरी व मानसिक कमजोरी को ख़त्म करती है |
  • हाथ-पैर में जलन की समस्या को दूर करती है |
  • रक्त में आक्सीज़न की मात्रा को नियंत्रित करती है |
  • यकृत से जुड़े सभी रोगों में लाभकारी है |

कैसे करे पंतजलि गिलोय घनवटी का सेवन

पंतजलि गिलोय घनवटी कला सेवन बहुत ही आसान होता है | इस दवा को बहुत आसानी से अपने प्रयोग में ला सकते है | इस दवा का सेवन व्यस्क व्यक्ति को दिन में दो बार करना चाहिये | वही बच्चों को दिन एक गोली का सेवन कराये | याद रहे बच्चे की उम्र पांच साल से अधिक होनी चाहिये | आप चाहे तो इसका सेवन शहद के साथ भी कर सकते है | खाना खाने के पहले इसका सेवन करे | इसके सेवन के एक घंटे बाद ही भोजन को ग्रहण करे | गर्भवती महिला भी इसका सेवन कर सकती है | लेकिन गर्भधारण के पांच महीने के बाद इसका सेवन बंद कर दे |

अब आइये जानते है कुछ पंतजलि गिलोय घनवटी से जुड़े सवाल के बारे में

क्या पंतजलि गिलोय घनवटी के साथ अंग्रेजी दवा का सेवन कर सकते है ?

पंतजलि गिलोय घनवटी के साथ किसी भी अंग्रेजी दवा का सेवन नही करना चाहिये | इससे व्यक्ति के स्वास्थ पर असर पड़ता है |

पंतजलि गिलोय घनवटी कैसे बनाई जाती है ?

पंतजलि गिलोय घनवटी को बनाने के लिए केवल गिलोय नामक जड़ी बूटी का ही प्रयोग किया जाता है | इसीलिए यह हमारी समस्या को जड़ से ख़त्म करने में कारगर साबित होती है |

और पढ़े – कलर ब्लाइंडनेस या वर्णान्धता – Color Blindness Treatment In Hindi

Tagged पतंजलि
MANVENDRA
HEALTH BLOGGER AND DIGITAL MARKETER AT SOFT PROMOTION TECHNOLOGIES PVT LTD

3 thoughts on “पंतजलि गिलोय घनवटी के लाभ व हानि – Benifits Of Patanjali Giloy Ghan Vati In Hindi

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *