निपाह वायरस इसके लक्षण व उपाय-Nipah Virus Its Symptoms And Remedies in Hindi

0
105
निपाह वायरस

निपाह वायरस ऐसा संक्रमित रोग है |जो एक जानवर के द्वारा फैलता है |ये किस तरह फैलता है |अब आपको ये बताते है दोस्तों | ये वायरस जानवरों से फल को और उसी फल जो जो उस जानवर ने खाया है उस फल का सेवन करके इंसानों को ये वायरस संक्रमित कर देता है |इस वायरस से संक्रमित व्यक्ति को इस बीमारी का पाता 6 से 15 दिनों के अन्दर चलने लगता है |ये वायरस सबसे अधिक हमारे दिमाग को नुकसान पहुचता है |इस वायरस के हो जाने से हमारे शरीर मे 3 से 15 दिनों के अन्दर सर दर्द और तेज बुखार आने लगता है |

अगर इस वायरस को हम अनदेखा कर दे तो मरीज इसकी वजह से कोमा मे भी चला जाता है | अभी तक इस बीमारी का कोई इलाज नही खोजा जा सका है |इसीलिये ये निपहा वायरस के लक्षण दिखते ही तुरंत डॉक्टर से इलाज करवाए |अब जानते है |वायरस से ग्रस्त व्यक्ति को क्या क्या होने लगता है |

निपाह वायरस के लक्षण

1             दिमाग में सूजन होना
2            मांसपेशियों में दर्द
3            न्यूरोलॉजिकल परेशानी होना
4           वायरस से ग्रस्त होने पर शुरुआत में सांस लेने में समस्या
5          वायरस होने पर 3-15 दिन में तेज बुखार और सिरदर्द

दोस्तों ये लक्षण दिखाई देते है तुरंत डॉक्टर से इलाज करवाए |निपाह वायरस सबसे पहले चमगादड़ द्वारा फलो को खाने से ये फल वायरस ग्रस्त हो जाते है |अगर इसी फल को कोई इंसान खा लेता है|तो वो इंसान भी इस रोग की चपेट मे आ जाता है |और फिर उसको दिमाग मे सूजन इसके बाद यह छाती में संक्रमण पैदा करता है| जिससे सांस लेने में दिक्कत होने लगती है |इसके कारण व्यक्ति बेसुद होना शुरू हो जाता है|इस खतरनाक वायरस का एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलने का भी खतरा बना रहता है |इस बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति को सही समय पर डॉक्टर को नही दिखाया गया तो मरीज की जान भी चली जाती है |

निपाह वायरस के बचाओ

  • फलों का सेवन धो कर करे :-

फलों का सेवन खासकर केले और खजूर खाने से बचें| पेड़ से गिरे हुये फलों को न खाएं| जब भी आप बाजार से कोई सब्जी या फल खरीदें तो उसे अच्छी तरह गर्म पानी से धोकर खाएं|और केला आम और खजूर खाने से परहेज करें|ये सब करने से निपाह वायरस फैलने का खतरा कम होगा |

  • चमगादड़ के कुतरे फल को ना खाये :-

इस बात का भी ध्‍यान रखें कि आप जो फल खाना खा रहे हैं| वह किसी चमगादड़ द्वारा या उसके मल से दूषित नहीं हुआ हो| चमगादड़ के कुतरे हुए फलो का सेवन ना करे | देसी शराब का सेवन बिल्कुल ना करे |इस तरह भी आप अपने आप को निपाह वायरस से दूर रख सकते |

  • वायरस ग्रस्त मरीज से दूर रहे :-

निपाह वायरस से पीड़ित लोगों से दूर रहें | यदि आप उनसे मिल रहे है| तो मिलने के तुरंत बाद में साबुन से अपने हाथों को अच्छे से धोएं|व नहाये |और अगर इस वायरस की वजह से जिस किसी की भी मौत हुई हो, उनके शव से भी दूर रहें|जिससे आप निपाह वायरस की चपेट मे नही आओगे |

  • जानवरों से दूर रहे :-

चमगादड़, सुअर, कुत्ते और घोड़ों जैसे जानवरों के द्वारा ही निपाह वायरस इंसानों में भी फैल है |इसलिए ऐसे भोजन का सेवन बिल्कुल ना करें जो इन जानवरों के संपर्क में आया हो| और खुले में टंगी मटकी वाली ताड़ी का भी सेवन ना करे |इसके द्वारा भी आप निपाह वायरस से बच सकते है|

इस निपाह वायरस से बचने के लिये जितना हो सके उतना ये सावधानी बरते क्योंकि इस बीमारी का अभी तक कोई इलाज नही खोजा गया है |इसीलिये दी हुई सावधानी को बरते और स्वस्थ रहे |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.