जानिये लकवा का आयुर्वेदिक इलाज व इसके शुरुवाती लक्षण

0
189

लकवा lakwa को पैरालिसिस paralysis या स्टोक भी कहा जाता है लकवा  lakwa किसी भी उम्र में किसी भी महिला या किसी व्यक्ति को हो सकता है जिसकी बजह से व्यक्ति चलने फिरने में और लकवा ग्रस्त अंग को महसूस कर पाने में असमर्थ हो जाता है |

चेहरे पर लकवा होने से मरीज का मुंह टेढ़ा हो जाता है और बोलने पर मुंह से आवाज नही निकलती है|

जब हमारे शरीर का कोई अंग या फिर पुरे शरीर की माशपेसिया काम करना बंद कर दे तो उस अवस्था को फलीस, पक्षाघात या फिर लकवा कहते है|

इस बीमारी से उबरने में काफी समय लग जाता है और कई बार तो ये लाइलाज रोग बन जाता है|

तो आइये जानते है कैसे लकवे का इलाज घरेलु उपाय और आयुर्वेदिक नुस्खो द्वारा किया जा सकता है |

लकवा  होने के लक्षण व कारण-

  • सिर दर्द होना, चक्कर आना या बेहोश होना |
  • शरीर में अकडन आना, शरीर का कोई अंग बार-बार सुन्न पड़ जाना |
  • बात करते समय अटकना, या बोलने में परेशानी होना |
  • धुंधला दिखाई देना कोई चीज दो बार दिखना |
  • लकवा होने का सबसे बड़ा कारण है हाई ब्लड प्रेशर
  • इसके अलावा खून में थक्का जम जाना और बेड कोलेस्ट्रोल का बढना |

 लकवा का उपचार घरेलु व देशी तरीके से-

  • रोजाना सौठं और उडद को उबाल ले और ठण्डा होने पर इसका पानी छानकर पिये
  • हर रोज इस उपाय को करने से लकवे में काफी सुधार होता है |
  • दूध में छुआरा भिगो कर खाने से भी लाभ मिलता है  ध्यान रहे एक बार में 4 से ज्यादा छुआरे ना खाये |
  • खजूर का गूदा लकवे से प्रभावित अंग पर मलने से भी आराम मिलता है |
  • 50 से 60 ग्राम काली मिर्च को 250 ग्राम तेल में मिलाकर कुछ देर तक पकाये अब इस तेल को गुनगुना करके लकवे प्रभावित अंग पर पतला लेप लगाये |
  • लकवे के रोगी को करेला ज्यादा खाना चाहिये लकवे में करेले के सेवन से फायदा मिलता है |
  • रात को ताँबे के बर्तन में एक लीटर पानी भर कर रख दे
  •  पानी में चाँदी का सिक्का डाल दे सुबह खाली पेट इस पानी को पिये और आधे घण्टे तक कुछ ना खाये पिये फायदा मिलेगा |
  • लकवे से ग्रस्त व्यक्ति को किसी भी नशीली चीज के सेवन से परहेज करना चाहिये और
  • खाने में घी, तेल, मास, मछली का प्रयोग नही करना चाहिये |
  • काली उडद को खाने के तेल में डाल कर गर्म कर ले और लकवा ग्रसित अंग पर मालिश कर इससे काफी लाभ मिलेगा |
  • baidyanath ayurvedic medicine for paralysis.
  • और पढे – (आँखों का भेंगापन का इलाज | योगा से करे दूर आखों का भैगापन |)

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.