घर पर गर्भवती होने की जाँच कैसे करे ? तरीके एवं साबधानियाँ – PREGNANCY CHECKUP AT HOME IN HINDI ?

0
124
घर पर गर्भवती होने की जाँच कैसे करे ? - HOW TO CHECK PREGNANCY AT HOME IN HINDI ?

घर पर गर्भवती होने की जाँच कैसे करे ? ये जानना हर औरत के लिए जरुरी होता है क्योंकि हर औरत का माँ बनना जिन्दगी में सबसे बड़ी खुशी की बात होती है । पीरियड समय पर ना आने के वैसे तो बहुत से कारण होते है , लेकिन पीरियड मिस होने के बाद हर महिला को सबसे पहले यही लगता है की कही उसके पीरियड्स मिस होने के पीछे  प्रगनेंट होने का संकेत तो नहीं है । लेकिन प्रेग्नेंसी को कनफर्म करने के लिए सबसे पहले इसकी जाँच करना बहुत जरूरी होता है , जाँच करने के लिए बाजार मे बहुत से किट आसानी से लिए जा सकते है |

लेकिन कभी कभी किट के रिजल्ट पर पूरी तरह से भरोषा नहीं किया जा सकता है | ऐसे मे कुछ घरेलू उपायों और घरेलू नुस्खो से भी गर्भावस्था की जांच आसानी से की जा सकती है । इसके लिए बहुत से तरीके होते है| लेकिन गर्भावस्था की जांच पीरियड्स के कितने दिनों के बाद करना है, इसकी जानकारी होना बहुत जरूरी होता है।

वैसे तो कुछ स्थितियों में पीरियड्स का बंद हो जाना प्रेग्नेंसी का प्रमुख कारण होता है | पीरियड्स बंद होने के ७-१० दिन बाद आप खुद घरेलू नुस्खो से जांच करके देख सकती है कि आप प्रेग्नेंट है या नहीं। प्रेग्नेंसी टेस्ट का पॉज़िटिव या निगेटिव होना मुख्यता आपके HCG हार्मोन पर निर्भर करता है। HCG हार्मोन्स का लेवल अगर किसी महिला के खून मे कम हो जाता है तो प्रेग्नेंसी का पता देर से चलता है और इसकी मात्रा सभी के शरीर मे अलग अलग होती है ।

गर्भावस्था की जांच सुबह सुबह उठकर पहले मूत्र से ही करना चाहिए । हर औरत के अन्दर यूरिन सेंसिटिविटी अलग अलग होती है , जिससे भी पता लगाया जा सकता है कि पीरियड्स होने के बाद कितने दिनों के बाद जांच करने से परिणाम सकारत्मक आता है । कभी कभी तो कुछ ऐसी भी परिस्थितियां बन जाती है की महिलाओं को पता ही नहीं चलता है की वे गर्भवती है और वे अपने दैनिक काम आसानी से करती रहती है | अधिकतर ऐसी स्थितियों में गर्भपात होने की समस्या का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ जाता है  |

गर्भवती होने की जाँच के घरेलू तरीके :

डेटोल के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच – 

एक छोटी सी प्लास्टिक की बोतल में लगभग 20 एम एल डेटोल लेकर उसमे लगभग डेटोल के बराबर ही यूरिन मिला दे | अब बोतल को अच्छे से हिला कर इन्हें मिक्स कर लें | अगर अच्छी तरह से मिक्स होने के बाद इस मिश्रण का रंग सफ़ेद दुधिया हो जाता है तो इसका मतलब होता है की आप गर्भवती नहीं है | लेकिन अगर इस प्रक्रिया को करते समय जो डेटॉल और यूरिन मिक्स किया गया था , वह अगर अलग अलग ही रहता है और डेटॉल के ऊपर कुछ तेल की तरह का पदार्थ तैरने लगता है तो समझ लिजिये की आप गर्भवती है |

विनेगर के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच – 

थोडा सा विनेगर लेकर उसमे कुछ मात्रा में यूरिन की बूंदों को अच्छे से हिलाकर मिला ले और अगर विनेगर का रंग बदल जाता है तो ये तय हो जाता है की आप निश्चित तौर पर गर्भवती है |

साबुन के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच – 

साबुन के पानी को और थोड़ी सी यूरिन की मात्रा को एक प्लास्टिक की बोतल में डालकर अच्छी तरह से मिला ले अगर कुछ समय बाद इस मिश्रण में बुलबुले उत्पन्न होने लगे तो समझ लीजिये की आप गर्भवती है आपका परिणाम सकारात्मक है |

डंडेलिओन के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच – 

डंडेलिओन की पत्तियों को एक कपडे में अच्छे से बांधकर जमीन पर रख दे और फिर इन पत्तियों के ऊपर यूरिन की कुछ बूंदे डाले अगर यूरिन डालते ही इन पत्तियों पर लाल रंग के फफोले पढ़ जाते है तो ये आपके गर्भवती होने का संकेत होता है | मगर ध्यान रहे इस प्रयोग को करते समय डंडेलिओन की पत्तियों को सूरज की रोशनी से बचा के रखना चाहिए |

टूथपेस्ट के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच –

गर्भावस्था की जांच के लिए टूथपेस्ट सबसे सही और सरल उपाय होता है | इस जांच के लिए एक प्लास्टिक के गिलास में सुबह सुबह के यूरिन की कुछ मात्रा लेकर रख ले मगर धयान रहे इसमें सुबह सुबह का पहला यूरिन ही प्रयोग करे , क्योंकि सुबह सुबह के यूरिन से एक दम सही परिणाम आता है | अब इस यूरिन में एक चम्मच कोई सा भी टूथपेस्ट अच्छी तरह से मिला दे |अब इस मिश्रण को दो से तीन घंटे के लिए रखा छोड़ दे अगर टूथपेस्ट का रंग नीला और मिश्रण झागदार हो जाता है तो आपका परिणाम सकारात्मक होता है कि आप गर्भवती होती है और अगर नहीं होता है तो आप का परिणाम नकारात्मक है आप गर्भवती नहीं है |

बेकिंग सोडा के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच –

एक बड़ी चमंच यूरिन एक गिलास में लेकर उसमे दो बड़ी चमंच बेकिंग सोडा अच्छी तरह से हिलाकर मिला ले| मिलाने के कुछ समय लगभग आधा घंटे बाद अगर इसमें बुलबुले बनने लगे तो आपका परिणाम सकारात्मक होता है| मतलब आप गर्भवती हो चुकी है |

चीनी के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच –

दो बड़ी चम्मच चीनी और पाँच बड़ी चम्मच यूरिन को एक प्लास्टिक के गिलास मे डालकर अच्छे से मिला ले , इन्हें मिलने के बाद अगर चीनी पेशाब मे घुल जाती है तो आप गर्भवती नहीं है। लेकिन अगर चीनी घुलने के बजाय छोटे छोटे गुच्छे मे इकठ्होठी हो जाए तो आप का परिणाम सकारात्मक है और आप गर्भवती है।

पाइन सोल के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच –

पाइन सोल एक क्लीनर की तरह ही काम करता है जो आपको बाजार में आसानी से किसी भी दुकान पर मिल सकता है | एक प्लास्टिक के गिलास में बराबर मात्रा में पाइन सोल और यूरिन को अच्छे से मिक्स कर ले और इन्हें मिलाने के बाद अगर इसका रंग बदल जाता है तो आप आप का परिणाम सकारात्मक होता है और आप गर्भवती है।

प्याज के प्रयोग से करे गर्भावस्था की जांच –

प्याज के प्रयोग से गर्भावस्था की जांच करना एक बहुत ही पुराना और असरदार उपाय होता है| पुराने समय में जब गर्भावस्था की जांच के साधन नहीं हुआ कर देते थे तो चिकित्सकों द्वारा भी इस उपाय का प्रयोग किया जाता था और जांच करके बता देते थे की महिला गर्भवती है या नहीं |

इसके लिए एक प्याज को रात भर के लिए अपनी योनि मे रख दे अगर प्याज की बदबू नहीं आती है तो महिला का गर्भवती होने का परिणाम सकारात्मक होता है, उसे गर्भवती समझना चाहिए |

गर्भावस्था की जांच करते समय बरतने वाली सावधानियां –

  • घर पर गर्भावस्था की जांच करते समय प्रयोग की जाने वाली चीजों की साफ सफाई का विशेष ध्यान रखना जरुरी होती है जिससे की कोई संक्रमण का खतरा ना रहे |
  • घर पर किये जाने वाले गर्भवस्था की जांच में प्रयोग किये जाने वाले ये उपाय आज नहीं बल्कि बहुत पुराने समय से ही प्रयोग किये जाते है और तो और यह बहुत असरदार और संतोषजनक परिणाम प्रदान करते है |
  • घर पर गर्भावस्था की जांच करने के लिए आपको सदैव ताजे और सुबह के पहले पेशाब को लेकर ही जाँच करना चाहिए, क्योकि यूरिन मे एक खास तरह का HCG हार्मोन पाया जाता है जिसके द्वारा हम पता लगा सकते है की परिणाम सकारात्मक है या नकारात्मक|इसलिए घर पर जाँच के लिए सुबह सुबह का पहला यूरिन ही प्रयोग में लेना चाहिए।
  • अगर गर्भावस्था की जांच का परिणाम नकारात्मक आता है , तो ७२ घंटे के बाद दोबारा जांच अवश्य करे | पुनः जाँच करने के बाद भी परिणाम नकारात्मक हो तो किसी चिक्तिसक से परामर्श जरूर ले कही पीरियड नहीं आने की कोई और समस्या तो नहीं है  |
  • घर पर गर्भावस्था की जाँच करने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है की परिणाम सकारात्मक होते ही आप अपनी देखभाल करना शुरू कर सकती है।

दोस्तों इन आसन और भरोसेमंद उपायों को प्रयोग करके आप अपने घर पर ही आसानी से गर्भावस्था की जांच कर सकते है |

और पढ़े – गर्भावस्था में कैसे करे आप अपनी देखभाल

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.